Sports

Serena Williams: टेनिस कोर्ट की महारानी, जिसने जीते 23 ग्रैंडस्लैम खिताब

न्यूयॉर्क | वह पिछले ढाई दशक से टेनिस कोर्ट की महारानी हैं और उन्होंने इस दौरान वह सब उपलब्धियां हासिल की जिनकी एक खिलाड़ी उम्मीद करता है। इस दिग्गज टेनिस खिलाड़ी सेरेना विलियम्स का यूएस ओपन के तीसरे दौर में हार के साथ पेशेवर करियर भी समाप्त हो गया। सेरेना 26 सितंबर को 41 वर्ष की हो जाएंगी और अब वह अपना परिवार बढ़ाना चाहती हैं और व्यावसायिक कार्यों में ध्यान देना चाहती हैं। उनकी पांच साल की बेटी ओलंपिया है। यह दिग्गज खिलाड़ी शुक्रवार की रात को तीन घंटे से भी अधिक समय तक चले मैच में अजला टॉमलजानोविच से 7-5, 6-7 (4), 6-1 से हार गई।

सेरेना ने पांच मैच प्वाइंट बचाए लेकिन आखिर में जब उनका शॉट नेट पर लगा तो उनकी आंखें भी छलक उठी। उन्होंने मैच के बाद कहा,'' यह मेरे लिए अब तक का सबसे अविश्वसनीय सफल रहा है। मैं उस हर व्यक्ति की आभारी हूं जिसने सेरेना आगे बढ़ो, कह कर मेरा हौसला बढ़ाया। सेरेना ने अपने करियर में 23 ग्रैंडस्लैम एकल खिताब और अपनी बड़ी बहन वीनस के साथ 14 युगल खिताब भी जीते। वह डब्ल्यूटीए रैंकिग में सैकड़ों सप्ताह तक शीर्ष पर काबिज रही। उनके नाम पर चार ओलंपिक स्वर्ण पदक भी दर्ज हैं। इसके अलावा उन्होंने कई अन्य ट्रॉफी जीती और करोड़ों डॉलर की कमाई की।

इस दिग्गज खिलाड़ी ने डब्ल्यूटीए टूर में अपना पहला मैच 14वां जन्मदिन मनाने के एक महीने बाद 28 अक्टूबर 1995 को खेला था। उन्होंने ग्रैंड स्लैम स्तर पर अपना पहला मैच 16 साल की उम्र में ऑस्ट्रेलियाई ओपन में जीता था। उन्होंने तब छठी वरीयता प्राप्त इरिना स्पिरलिया को 6-7 (5), 6-3, 6-1 से हराया था, लेकिन अगले दौर में वह अपनी बड़ी बहन वीनस से हार गई थी।
सेरेना ने 17 साल की उम्र में मार्टिना हिगिस को 11 सितंबर, 1999 को यूएस ओपन के फाइनल में 6-3, 7-6 (4) से हराकर अपना पहला ग्रैंड स्लैम खिताब जीता था। यूएस ओपन 2001 में फाइनल में उनके सामने उनकी बहन वीनस थी जिनसे उन्हें हार का सामना करना पड़ा था लेकिन 2002 के फ्रेंच ओपन में सेरेना ने अपनी बहन को हराकर दूसरा ग्रैंड स्लैम जीता था।

सेरेना ने इसके बाद विबलडन 2002 में फिर से अपनी बड़ी बहन वीनस को हराकर खिताब जीता था। वह पहली बार आठ जुलाई 2002 को डब्ल्यूटीए रैंकिग में नंबर एक पर काबिज हुई थी। इसके बाद यूएस ओपन 2002 में भी दोनों विलियम्स बहनों के बीच खिताबी मुकाबला हुआ जिसमें सेरेना ने बाजी मारी थी। इसके बाद उन्होंने ऑस्ट्रेलियाई ओपन 2003 में फिर से वीनस को हराकर खिताब जीता और इस तरह से लगातार चार ग्रैंड स्लैम टूर्नामेंट जीतकर 'सेरेना स्लैम पूरा किया।

सेरेना ने 2003 में विबलडन के फाइनल में फिर से वीनस को हराकर अपने खिताब का बचाव किया। इसके बाद वह बाएं घुटने की चोट से परेशान रही लेकिन उन्होंने 2005 में ऑस्ट्रेलियाई ओपन के फाइनल में लिडसे डेवनपोर्ट को हराकर शानदार वापसी की।
घुटने के ऑपरेशन के कारण सेरेना फिर से कोर्ट से बाहर रही। इस कारण उन्होंने ऑस्ट्रेलियाई ओपन 2007 में 81 में नंबर की खिलाड़ी के रूप में भाग लिया और फाइनल में मारिया शारापोवा को हराकर अपना आठवां ग्रैंड स्लैम खिताब जीता। सेरेना ने इसके बाद 2008 में यूएस ओपन के फाइनल में एलेना जांकोविच, ऑस्ट्रेलियाई ओपन 2009 में दिनारा सफीना और इसी साल विबलडन फाइनल में वीनस को हराकर खिताब जीते। उनका 12वां ग्रैंड स्लैम खिताब 2010 का ऑस्ट्रेलियाई ओपन में था जहां उन्होंने फाइनल में जस्टिन हेनिन को हराया।

सेरेना ने 2010 में चौथी बार विबलडन खिताब जीता लेकिन इसके बाद जर्मनी में वह चोटिल हो गई और उन्हें कोर्ट से बाहर बैठना पड़ा। इसके बाद वह फ्रेंच ओपन 2012 के पहले दौर में ही वर्जिनी रज्जानो से हार गई। यह पहला अवसर था जब वह किसी ग्रैंड स्लैम टूर्नामेंट के पहले दौर से आगे नहीं बढ़ पाई थी। उन्होंने विबलडन 2012 में खिताब जीतकर दो साल में पहली बार ग्रैंड स्लैम टूर्नामेंट जीता और फिर इस साल यूएस ओपन का खिताब भी अपने नाम किया। उन्होंने अपना 16वां ग्रैंड स्लैम खिताब फ्रेंच ओपन 2013 के रूप में जीता था। सेरेना ने 2013 में ही यूएस ओपन में विक्टोरिया अजारेंका को हराकर फ्लशिग मीडोज में पांचवां खिताब अपने नाम किया। उन्होंने इसके एक साल बाद फिर से यूएस ओपन का खिताब जीतकर क्रिस एवर्ट और मार्टिना नवरातिलोवा के 18 ग्रैंड स्लैम खिताब की बराबरी की थी।

सेरेना ने 2015 में ऑस्ट्रेलियाई ओपन, फ्रेंच ओपन और विबलडन में खिताब जीते लेकिन इस साल यूएस ओपन के सेमीफाइनल में रॉबर्टा विसी से हारने के कारण उनका एक वर्ष में चारों ग्रैंड स्लैम जीतकर 'कैलेंडर स्लैम पूरा करने का सपना अधूरा रह गया।
इस अमेरिकी खिलाड़ी ने 2016 में विबलडन चैंपियन बनकर स्टैफी ग्राफ के 22 ग्रैंडस्लैम खिताब की बराबरी की थी। इसके बाद उन्होंने 2017 में ऑस्ट्रेलियाई ओपन जीतकर ग्राफ को पीछे छोड़ा था। अब सेरेना का लक्ष्य मार्गरेट कोर्ट के 24 ग्रैंडस्लैम खिताब की बराबरी करना था, लेकिन वह यह उपलब्धि हासिल नहीं कर पाई।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button