national

Reddy: संरक्षित स्मारकों पर निशुल्क प्रवेश की घोषण के बाद से वहां आने वाले छात्रों की संख्या बढ़ी

नयी दिल्ली | केंद्रीय मंत्री जी. किशन रेड्डी ने कहा कि सरकार द्बारा 'आजादी का अमृत महोत्सव के तहत देशभर में भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) द्बारा संरक्षित सभी स्मारकों व स्थलों पर प्रवेश निशुल्क किए जाने के बाद वहां जाने वाले छात्रों की संख्या में वृद्धि हुई है। उन्होंने बताया कि इसे और बढ़ाने के लिए संस्कृति मंत्रालय स्कूलों और कॉलेज से भी सम्पर्क करेगा।केंद्रीय संस्कृति मंत्रालय ने हाल ही में देश भर में भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) द्बारा संरक्षित सभी स्मारकों व स्थलों पर घरेलू तथा विदेशी दोनों पर्यटकों के लिए पांच से 15 अगस्त तक प्रवेश निशुल्क कर दिया था।

रेड्डी ने 'पीटीआई-भाषा से कहा, '' अब तक इस कदम को लोगों का बढ़ा समर्थन मिला है, खासकर छात्रों का… 15 साल से कम छात्रों के लिए प्रवेश पहले ही निशुल्क था, लेकिन अब और अधिक छात्र आ रहे हैं और अपने माता-पिता को भी साथ ला रहे हैं।
पर्यटन मंत्री ने कहा कि 'आजादी का अमृत महोत्सव का मकसद लोगों में देशभक्ति की भावना को बढ़ावा देना है। इसका और अधिक प्रचार किया जाना चाहिए।

रेड्डी ने कहा, '' हम प्रयास कर रहे हैं कि यह जानकारी सभी स्कूल, कॉलेज तक पहुंचे और हम भारत के इस उत्सव के हिस्से के रूप में एक माहौल तैयार करने के लिए उनके प्रबंधन से बात करने की भी कोशश कर रहे हैं।भारत इस साल 15 अगस्त को अपनी स्वतंत्रता की 75वीं वर्षगांठ मनाएंगा। इसका जश्न मनाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मार्च 2021 में 'आजादी का अमृत महोत्सव की शुरुआत की थी, जो 15 अगस्त 2023 तक चलेगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button