State

खास खबर: आदिवासी राष्ट्रपति उम्मीदवार के बहाने भाजपा की कांग्रेस से क्रास वाेटिंग कराने की बड़ी रणनीति

रायपुर(realtimes) एनडीए की राष्ट्रपति पद की आदिवासी महिला उम्मीदवार द्रौपती मुर्मू के बहाने भाजपा ने राज्य की कांग्रेस सरकार काे अलग रणनीति के तहत घेरने की तैयारी की है। इसकाे लेकर कई स्तराें पर कांग्रेस के विधायकाें से समर्थन मांगने की रणनीति बनी है। इसी के तहत अब सबसे पहले केंद्रीय मंत्री प्रदेश की आदिवासी सांसद रेणुका सिंह ने प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष मोहन मरकाम और कांग्रेस की आदिवासी सांसद फूलोदेवी नेताम को पत्र लिखकर समर्थन मांगा है।इसी के साथ मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से सीधे द्रौपती मुर्मू की बात कराने की भी तैयारी है। इसके लिए नेता प्रतिपक्ष धरमलाल काैशिक की तैनाती की गई है। यह बात ताे पहले से ही तय है कि कांग्रेस किसी भी हाल में एनडीए की उम्मीदवार का समर्थन नहीं करेगी, लेकिन भाजपा आदिवासी उम्मीदवार का मुद्दा सामने रखकर कांग्रेस के आदिवासी विधायकाें से क्रास वाेटिंग की रणनीति पर काम कर रही है।

द्रौपती मुर्मू 15 जुलाई को रायपुर आने वाली हैं। इसके पहले भाजपा के राष्ट्रीय संगठन ने उनके लिए कांग्रेस से भी समर्थन जुटाने की रणनीति बनाई है। इसके लिए बकायदा यहां के दिग्गज नेताओं को जिम्मेदारी भी दी गई। जहां एक तरफ नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से बात करने का जिम्मा मिला है, वहीं प्रदेशाध्यक्ष विष्णुदेव साय को कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष माेहन मरकाम से बात करने के निर्देश मिले हैं। डॉ. रमन सिंह को जोगी कांग्रेस के साथ बसपा से बात करने कहा गया है। इसके पहले अब आदिवासी केंद्रीय मंत्री ने भी अपनी भागीदारी दिखाते हुए पत्र लिखने का काम किया है।

रेणुका ने लिखा पत्र

केंद्रीय मंत्री रेणुका सिंह ने भूपेश बघेल, मोहन मरकाम और फूलोदेली नेताम को लिखे पत्र में लिखा है, भारत की आजादी के 75 वर्ष पूरे होने पर हम अमृत महोत्सव मना रहे हैं। सबका साथ सबका विकास, सबका प्रयास के संकल्प को लेकर काम करने वाली भाजपा सरकार ने जनजातीय समुदाय की महिला द्रौपती मुर्मू को देश की राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बनाया है। छत्तीसगढ़ का 30 फीसदी जनजातीय समुदाय इस फैसले से हर्षित है। मुख्यमंत्री भूपेश और मोहन मरकाम से जहां पत्र में मुर्मू के पक्ष में मतदान की अपील की गई है, वहीं फूलोदेवी के पत्र में मुर्मू के पक्ष में मतदान करवाने की पहल करने के लिए लिखा गया है।

भूपेश से बात करवाएंगे धरम

नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक सबसे पहले कांग्रेस विधायक दल के नेता और मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से खुद बात करेंगे, वहीं श्रीमती मुर्मू से भी मुख्यमंत्री की बात करवाएंगे। इधर विष्णुदेव साय कांग्रेस के विधायकों से समर्थन मांगने के लिए कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष और विधायक मोहन मरकाम से बात करेंगे। हालांकि कांग्रेस ने साफ कर दिया है कि उनका समर्थन यशवंत सिंहा काे रहेगा। इसी के साथ माेहन मरकाम ने यह भी कहा है कि उनकाे भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष से मिलने में परेहज नहीं है।

जोगी कांग्रेस और बसपा के विधायक भी रहेंगे बैठक में

जोगी कांग्रेस और बसपा के विधायकों से बात करने का जिम्मा डॉ. रमन सिंह को दिया गया है। श्रीमती मुर्मू के आने से पहले जहां डॉ. रमन इन दलों के नेताओं से बात करेंगे, वहीं जानकारों का यह भी कहना है कि भाजपा के विधायकों और सांसदों की जब होटल बेबीलोन में बैठक होगी तो इसमें जोगी कांग्रेस और बसपा के विधायक भी शामिल होंगे। बसपा की सुप्रीमाे मायावती पहले ही समर्थन का ऐलान कर चुकी हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button