nationalTop News

उग्रवादी संगठनों का ऐलान- इन 5 पूर्वोत्तर राज्यों में स्वतंत्रता दिवस का करेंगे बहिष्कार, बयान जारी कर कहा…

प्रतिबंधित उग्रवादी संगठन यूनाइटेड लिबरेशन फ्रंट ऑफ असम (स्वतंत्र) और नेशनलिस्ट सोशलिस्ट काउंसिल ऑफ नागालिम (खापलांग) ने पांच पूर्वोत्तर राज्यों में भारत के 75वें स्वतंत्रता दिवस के समारोहों का पूर्ण बहिष्कार करने का आह्वान किया है। संगठनों ने पांच पूर्वोत्तर राज्यों – असम, नागालैंड, मणिपुर, त्रिपुरा और मेघालय में आम हड़ताल का भी आह्वान किया है।

एक संयुक्त बयान में, उग्रवादी संगठनों ने सभी स्तरों पर लोगों से कहा कि वे फर्जी स्वतंत्रता दिवस गतिविधियों में भाग ना लें।

बयान में कहा गया है, “औपनिवेशिक भारत के नकली स्वतंत्रता दिवस के बहिष्कार का हमारा विरोध 15 अगस्त को 12 बजे से 6:00 बजे तक पूर्ण बंद रहेगा।”

उन्होंने कहा कि कोविड -19 महामारी ने पूरी दुनिया के साथ-साथ पश्चिम-दक्षिण पूर्व एशियाई क्षेत्र के सामाजिक-आर्थिक विकास को ठेंगा दिखा दिया है और हजारों स्वदेशी किसान परिवारों ने बाढ़ और भूस्खलन के कारण अपने घर खो दिए हैं।

बयान में कहा गया है कि, “तथाकथित स्वतंत्रता के 75 वर्षों के बाद, स्वदेशी लोग कर्ज, जीएसटी, आवश्यक वस्तुओं की बढ़ती कीमतों और सैकड़ों अन्य समस्याओं से पीड़ित हैं। एक ऐसे राज्य के लिए यह अनुचित, ऐतिहासिक रूप से अप्रासंगिक और बेकार है, जो जीवन स्तर में गिरावट के ऐसे समय में पीड़ित लोगों का सामना करने में असमर्थ है।”

उल्फा-आई, जिसने पिछले एक साल के दौरान एकतरफा युद्धविराम को दो बार बढ़ाया है।

अपने मोबाइल पर REAL TIMES का APP डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button