national

ICICI Bank ने कर्ज पर ब्याज दर 0.15 प्रतिशत बढ़ाई

नयी दिल्ली |  आईसीआईसीआई बैंक ने सोमवार को कर्ज पर लगने वाली ब्याज दर 0.15 प्रतिशत बढ़ा दी। भारतीय रिजर्व बैंक के इस सप्ताह नीतिगत दर में बढ़ोतरी की संभावना के साथ बैंक ने यह वृद्धि सभी अवधि के कर्ज पर की है। निजी क्षेत्र के दूसरे सबसे बड़े बैंक ने कोष की सीमांत लागत आधारित ब्याज दर (एमसीएलआर) बढ़ाई है। बैंक के इस कदम से कर्ज की मासिक किस्त (ईएमआई) बढ़ेगी।

बैंक की वेबसाइट पर उपलब्ध सूचना के अनुसार, एक अगस्त से संशोधित दरों के तहत एक साल की अवधि वाली एमसीएलआर 0.15 प्रतिशत बढ़ाकर 7.90 प्रतिशत कर दी गयी है। वहीं एक दिन की अवधि की ब्याज दर 7.65 प्रतिशत होगी। खुदरा ऋण के लिहाज से एक साल के एमसीएलआर को महत्वपूर्ण माना जाता है क्योंकि आवास ऋण जैसे बैंक के दीर्घकालीन कर्ज इसी से संबद्ध होते हैं।

बैंक ने रिजर्व बैंक की मौद्रिक नीति समिति (एमपीसी) की इस सप्ताह होने वाली बैठक से पहले ब्याज दरों में बढ़ोतरी की है। ऐसी संभावना है कि एमपीसी मुद्रास्फीति पर अंकुश के लिए नीतिगत दर रेपो में बढ़ोतरी करेगी। इससे पहले, आवास ऋण देने वाली एचडीएफसी लि. ने ब्याज दर 0.25 प्रतिशत बढ़ायी थी। इंडियाबुल्स हाउसिग फाइनेंस लि. ने भी आवास ऋण और एमएसएमई (सूक्ष्म, लघु एवं मझोले उद्यम) कर्ज पर ब्याज दर 0.25 प्रतिशत बढ़ायी थी। बैंक की नई दरें नये ग्राहकों के लिये एक अगस्त से और मौजूदा कर्जदारों के लिए पांच अगस्त से लागू होंगी।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button