nationalTop News

अमरनाथ हादसा: वायुसेना ने संभाला मोर्चा, 2 ALH ध्रुव और 2 MI-17 V5 हेलीकॉप्टर तैनात, डॉग स्क्वॉड भी रेस्क्यू में जुटे

जम्मू-कश्मीर के अमरनाथ गुफा के पास शुक्रवार शाम बादल फटने से अब तक 16 लोगों की मौत हो गई और 40 से अधिक घायल हो गए। एनडीआरएफ के डीजी अतुल करवाल ने बताया कि 16 मौतों की पुष्टि हुई। लगभग 40 अभी भी लापता हैं। लैंडस्लाइड नहीं, लेकिन बारिश जारी है। हालांकि बचाव कार्य में कोई दिक्कत नहीं है। बचाव कार्य में 100 से अधिक बचावकर्मियों के साथ एनडीआरएफ की 4 टीमें लगी हैं। इसके अलावा, भारतीय सेना, एसडीआरएफ, सीआरपीएफ और अन्य बचाव कार्य में लगे हैं।

वहीं IAF अधिकारी ने जानकारी दी है कि भारतीय वायु सेना ने अमरनाथ गुफा स्थल में बचाव कार्यों के लिए श्रीनगर से 2-2 एएलएच ध्रुव और एमआई-17 वी5 हेलीकॉप्टर तैनात किए हैं। एक AN-32 और Ilyushin-76 परिवहन विमान आगे की आवश्यकताओं के लिए चंडीगढ़ में स्टैंडबाय पर रखा गया है।

9 शवों को नील गढ़ से श्रीनगर ले जाया गया

उधर, बीएसएफ का कहना है कि BSF MI-17 हेलिकॉप्टर द्वारा 9 शवों को नील गढ़ से श्रीनगर ले जाया गया है। इस बीच अमरनाथ यात्रा को अस्थायी रूप से स्थगित कर दिया गया है। अधिकारियों ने यात्रा को बालटाल और पहलगाम, दोनों आधार शिविरों से अस्थायी रूप से निलंबित कर दिया है।

अमरनाथ गुफा के आसपास फंसे 15 हजार श्रद्धालुओं को ITBP ने किया रेस्क्यू

आईटीबीपी ने कहा कि कल शाम एक दम आई बाढ़ के कारण पवित्र अमरनाथ गुफा क्षेत्र के पास फंसे अधिकांश तीर्थयात्रियों को पंजतरणी में स्थानांतरित किया गया है। ITBP ने मार्ग खोलने और सुरक्षा दलों को निचली पवित्र गुफा से पंजतरणी तक विस्तारित किया है। करीब 15,000 लोगों को सुरक्षित निकाला गया है।

रिपोर्ट की मानें को घायलों में से 10 लोगों को अमरनाथ गुफा के पास ही मेडिकल ट्रीटमेंट दिया जा रहा है जबकि 13 को सेना के आर्मी अस्पताल में भर्ती किया गया है। 25 घायलों को एस ए एस बी अस्पताल में इलाज दिया जा रहा है। सेना की 6 टुकड़ियां राहत और बचाव कार्य में जुटी है जिनमें सेना के अधिकारी और जेसीओ को मिलाकर 58 लोग शामिल है।

डॉग स्क्वॉड रेस्क्यू में जुटे

राहत और बचाव कार्य में सैनिकों के अलावा स्वान दल भी डॉग स्क्वॉड को भी लगाया गया है। अमरनाथ गुफा के पास दो डॉग्स स्क्वॉड लापता लोगों को ढूंढने की कोशिश कर रही है। इनमें से एक टीम पट्टन और दूसरी टीम शरीफाबाद से यहां लाई गई है। खराब मौसम के बावजूद सभी सुरक्षा एजेंसियां लगातार राहत और बचाव कार्य में जुटी हुई है सेना का रेस्क्यू ऑपरेशन भी लगातार जारी है।

अमरनाथ श्राइन बोर्ड, जम्मू-कश्मीर पुलिस और NDRF ने हेल्पलाइन नंबर जारी किए

  • 0194 2313149

  • 0194 2496240

  • 9596779039

  • 9797796217

  • 01936243233

  • 01936243018

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button