मौसम डेटा स्रोत: रायपुर मौसम
State

कौन है पीएम मोदी से मिलने वाली भिलाई से पढ़ी-लिखी पायल धारे..कैसे बनी गेमिंग क्रिएटर ऑफ द ईयर, जानिए..

भिलाई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कुछ भारतीय ऑनलाइन गेमर्स से मुलाकात की। प्रधानमंत्री से मुलाकात करने वाले आनलाइन गेमर में पायल धारे भी शामिल हैं। वह मूलत: मध्यप्रदेश के छिंदवाड़ा जिले के छोटे से गांव उमरानाला की निवासी है। फिलहाल मुंबई में निवासरत है।

भिलाई के रुंगटा कॉलेज में पढ़ी पायल धारे देश की एकमात्र आनलाइन गेमर महिला है। पायल धारे भिलाई में अपने नाना-नानी के घर पर रहती थी। पायल के मामा का नाम आशीष चौधरी है।

वहीं यूट्यूब पर उनके सब्सक्राइबर्स की संख्या 37 लाख है। इंस्टाग्राम पर पायल धारे के फॉलोअर्स की संख्या 31 लाख है। प्रधानमंत्री से मुलाकात करने वालों में ऑनलाइन गेमर पायल धारे के अलावा नमन माथुर,अनिमेश अग्रवाल,मिथिलेश पाटणकर,अंशु बिष्ट,तीर्थ मेहता और गणेश गंगाधर भी शामिल है। ये वो लोग है, जो ई-स्पोर्ट्स इंडस्ट्री में काफी पॉपुलर हैं।

इंटरनेट मीडिया पर भी इनके फॉलोअर्स की अच्छी-खासी संख्या है। इन लोगों से मिलकर प्रधानमंत्री मोदी ने गेमिंग इंडस्ट्री में आने वाली चुनौतियों, गेमिंग-गैंबलिंग में अंतर और दूसरे विषयों पर चर्चा की है। इस मुलाकात का एक टीजर वीडियो भी रिलीज किया गया है। पीएम नरेन्द्र मोदी और इन गेमर्स के बीच हुई चर्चा का पूरा वीडियो 13 अप्रैल को रिलीज किया जाएगा।

अपनी यात्रा के बारे में पायल ने बताया कि मैं भिलाई में पढ़ रही थी। यह मेरे इंजीनियरिंग कालेज का पहला साल था। सब कुछ नया था। मेरे एक मित्र ने मुझे पब्जी खेल से परिचित कराया। धीरे-धीरे मेरी मुलाकात कुछ मशहूर गेमर्स और यूट्यूब कंटेंट क्रिएटर्स से हुई। वर्ष 2019 में मैंने पायल गेमिंग नाम से यूट्यूब चैनल बनाया था।

गेमिंग क्रिएटर ऑफ द ईयर

आपको बता दें, मार्च 2024 में, पायल धरे ने “गेमिंग क्रिएटर ऑफ द ईयर” पुरस्कार अपने नाम हासिल किया था। अवॉर्ड नाइट की तस्वीरें सोशल मीडिया में शेयर करते हुए उन्होंने लिखा, “लगातार प्यार और समर्थन के लिए आप सभी को धन्यवाद.” पायल को पिछले साल डायनामिक गेमिंग क्रिएटर ऑफ द ईयर का पुरस्कार प्राप्त हो चुका है। पिता ने इस उपलब्धि पर कहा कि मुझे अपनी बेटी पर गर्व है।

 

Related Articles

Back to top button