मौसम डेटा स्रोत: रायपुर मौसम
Top News

विस्तारा एयरलाइंस की आज फिर कई उड़ानें हुई रद्द

Vistara Flight: विस्तारा एयरलाइंस की आज फिर कई उड़ानें रद्द हुई हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, कंपनी की नई दिल्ली की पांच फ्लाइट्स, बंगलूरू की तीन, कोलकाता की दो उड़ानें रद्द हुई हैं। विस्तारा एयरलाइंस पायलट्स की कमी और संचालन संबंधी समस्याओं से जूझ रही है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, आज यानी 2 अप्रैल को कंपनी की 70 के करीब उड़ानें रद्द हो सकती हैं। ऐसी स्थिति में यात्रियों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। 

विस्तारा एयरलाइंस ने बयान जारी कर बताई ये वजह
रिपोर्ट्स के अनुसार, कंपनी की एक अप्रैल से अब तक 50 से ज्यादा उड़ानें रद्द हो चुकी हैं और 160 के करीब उड़ानों में देरी हुई है। उल्लेखनीय है कि विस्तारा एयरलाइंस, टाटा ग्रुप की कंपनी है और इसका टाटा ग्रुप की ही अन्य एयरलाइंस एयर इंडिया के साथ विलय प्रस्तावित है। ऐसे में माना जा रहा है कि विस्तारा एयरलाइंस की इतनी संख्या में उड़ानें रद्द होने की ये भी एक वजह हो सकती है। विस्तारा एयरलाइंस ने बयान जारी कर कहा है कि ‘कई वजहों से, खासकर क्रू की कमी की वजह से, हमने बीते दिनों में बड़ी संख्या में फ्लाइट्स कैंसिल की है और कई उड़ानों में देरी हुई है। ऐसे में हमने तय किया है कि अपने नेटवर्क में कनेक्टिविटी के लिए हम अपनी फ्लाइट्स की संख्या कम करेंगे।’

विलय के चलते पायलट्स में सैलरी को लेकर नाराजगी की खबरें
एयर इंडिया और विस्तारा एयरलाइंस के विलय के तहत दोनों कंपनियों के क्रू को एक सैलरी स्ट्रक्चर के तहत लाने की तैयारी हो रही है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, नई व्यवस्था के तहत विस्तारा के पायलट्स को 40 घंटे की उड़ान के बदले तय सैलरी मिलेगी। साथ ही अतिरिक्त घंटे की उड़ान के लिए उन्हें अलग से भुगतान किया जाएगा। विस्तारा के पायलट्स को अभी 70 घंटे की उड़ान के तहत सैलरी दी जाती है। मामले के जानकारों के मुताबिक नए सैलरी स्ट्रक्चर से विस्तारा एयरलाइंस के कई पायलट्स नाराज हो गए हैं क्योंकि इससे उनकी सैलरी में कमी होगी। 

विस्तारा एयरलाइंस की बड़ी संख्या में फ्लाइट्स कैंसिल होने और फ्लाइट्स में देरी होने पर लोगों ने नाराजगी जाहिर की है। सोशल मीडिया पर यूजर्स कंपनी की सर्विस को लेकर नाराजगी जता रहे हैं। विस्तारा एयरलाइंस की इतनी बड़ी संख्या में उड़ानें रद्द होने और उड़ानों में देरी होने पर नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने भी कंपनी से जवाब मांग लिया है। नागरिक उड्डयन मंत्रालय के अधिकारी ने यह जानकारी दी है। 

Related Articles

Back to top button