मौसम डेटा स्रोत: रायपुर मौसम
national

आतंकी अर्शदीप सिंह के गिरोह के पांच बदमाश गिरफ्तार: पुलिस

नयी दिल्ली, 28 नवंबर (ए) कनाडा में रहने वाले आतंकवादी अर्शदीप सिंह उर्फ ​​अर्श डल्ला द्वारा संचालित गिरोह के पांच सदस्यों को सोमवार को दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने दावा किया कि ये लोग पंजाबी गायक एली मंगत को मारने की योजना बना रहे थे।.

अर्शदीप का प्रतिबंधित आतंकी संगठन खालिस्तान टाइगर फोर्स (केटीएफ) से संबंध है और वह हत्या, जबरन वसूली, लक्षित हत्याओं तथा आतंकी मॉड्यूल चलाने जैसे जघन्य अपराधों के मामले में राष्ट्रीय अन्वेषण अभिकरण (एनआईए) और पंजाब पुलिस को वांछित है।.पुलिस अधिकारियों ने बताया कि गिरफ्तार बदमाशों की पहचान राजप्रीत सिंह, वीरेंद्र सिंह, सचिन भाटी, अर्पित धनखड़ और सुशील प्रधान के रूप में हुई है।

उन्होंने कहा कि राजप्रीत और वीरेंद्र को दिल्ली के मयूर विहार में एक संक्षिप्त मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार किया गया, जिसमें वीरेंद्र को पैर में गोली लग गई। अधिकारियों ने कहा कि दोनों पंजाबी गायक एली मंगत को मारने की योजना बना रहे थे।

अधिकारियों ने बताया कि इन लोगों ने अक्टूबर में पंजाब के बठिंडा में एक प्रयास किया था, लेकिन असफल रहे क्योंकि गायक घर पर नहीं थे।

पुलिस ने कहा कि उनके पास से दो रिवॉल्वर, 13 कारतूस, एक हथगोला और चोरी की एक मोटरसाइकिल जब्त की गई है। उन्होंने कहा कि आरोपियों के खिलाफ हत्या के प्रयास और विस्फोटक पदार्थ अधिनियम और शस्त्र अधिनियम के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई है।

अधिकारियों ने बताया कि गिरफ्तार दोनों बदमाशों द्वारा किए गए खुलासे के आधार पर गिरोह को रसद मुहैया कराने वाले तीन लोगों-सचिन भाटी, अर्पित धनखड़ और सुशील प्रधान को भी गिरफ्तार कर लिया गया।

उन्होंने कहा कि पुलिस को सूचना मिली थी कि केटीएफ का आतंकवादी अर्शदीप सिंह दिल्ली-एनसीआर में कुछ बड़े आतंकी हमलों और लक्षित हत्याओं की साजिश कर रहा है।

अधिकारियों के अनुसार, रविवार को सूचना मिली थी कि अर्शदीप के दो शूटर किसी जघन्य अपराध को अंजाम देने के वास्ते पैसे और अवैध हथियार इकट्ठा करने के लिए रात करीब 11 बजे नोएडा लिंक रोड पर अक्षरधाम मंदिर की ओर आ रहे हैं।

उन्होंने कहा, ‘मयूर विहार इलाके में तैनात एक टीम ने आरोपियों को बाइक पर आते देखा। टीम ने उन्हें रोकने की कोशिश की, लेकिन उन्होंने पुलिसकर्मियों पर गोलीबारी कर दी। आरोपियों ने पांच गोलियां चलाईं, जिनमें से दो पुलिसकर्मियों की बुलेटप्रूफ जैकेट में लगीं।’’

पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘जवाबी कार्रवाई में, पुलिस टीम ने छह गोलियां चलाईं। गोलीबारी के दौरान, गोली वीरेंद्र सिंह के दाहिने पैर में लग गई।’

Related Articles

Back to top button