State

मुख्यमंत्री मितान योजना : नागरिकों को घर बैठे उपलब्ध कराये करीब 36 हजार दस्तावेज

रायपुर

छत्तीसगढ़ शासन की मुख्यमंत्री मितान योजना के तहत शहरी क्षेत्रों में लोगों को घर बैठे शासकीय सुविधाएं उपलब्ध करायी जा रही है। योजना के तहत अब तक करीब 36 हजार शासकीय दस्तावेज नागरिको कों घर बैठे ही प्रदान कर दिए गए हैं। इस योजना के अंतर्गत नागरिकों को दस्तावेज संबंधी जानकारी टोल फ्री नम्बर 14545 पर प्रदान की जा रही है।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के निर्देशन में एवं नगरीय प्रशासन विकास विभाग द्वारा नागरिकों को सरकारी दस्तावेज बनवाने हेतु घर पहुँच सेवा मुख्यमंत्री मितान योजना की शुरूआत 01 मई 2022 से प्रदेश के समस्त 14 नगर निगमों में प्रारंभ की गई थी। मितान योजना के तहत अब तक नगर निगम अंबिकापुर क्षेत्र में दो हजार 98 दस्तावेज, भिलाई में तीन हजार 489, भिलाई चरौदा में दो हजार 402, बिलासपुर में दो हजार 992, बीरगांव में एक हजार 516, चिरमिरी में 281, धमतरी में एक हजार 899, दुर्ग में तीन हजार 907 और जगदलपुर नगर निगम क्षेत्र में 831 दस्तावेज मितानों द्वारा नागरिकों के उनके घर पर ही पहुंचाये गये है। इसी प्रकार से नगर निगम कोरबा क्षेत्र में दो हजार 544, रायगढ़ में दो हजार 143, रायपुर में सात हजार 766, राजनांदगांव में दो हजार 295 और रिसाली नगर निगम क्षेत्र में एक हजार 681 आवश्यक सरकारी दस्तावेज मितानो ने नागरिकों के घर पर पहुंचाये है।

मितान योजना के अंतर्गत प्राप्त सेवाओं में मूल निवासी प्रमाण पत्र, अनुसूचित जाति जनजाति प्रमाण पत्र, अन्य पिछड़ा वर्ग प्रमाण पत्र, आय प्रमाण पत्र, भूमि की रिकार्ड की नकल, भूमि सूचना (भूमि उपयोग) मृत्यु प्रमाण पत्र, विवाह पंजीकरण और प्रमाण पत्र, जन्म प्रमाण पत्र, जन्म प्रमाण पत्र सुधार और दुकान और स्थापना पंजीकरण संबंधी दस्तावेज मितान सेवा से प्राप्त किये जा सकते हैं। इसी तरह मृत्यु प्रमाण पत्र सुधार, विवाह प्रमाण पत्र सुधार, आधार कार्ड पंजीकरण, (5 वर्ष तक के बच्चों का) आधार कार्ड में पता एवं मोबाइल नंबर में सुधार घर बैठे मितान सेवा से प्राप्त किए जा सकते हैं। इस सेवा से लोगों को श्रम, समय और धन की बचत हो रही है साथ ही प्रमाण पत्रों को प्राप्त करने के लिए सरकारी दफ्तरों के चक्कर काटने से भी निजात मिल रही है। वास्तव में छत्तीसगढ़ में मितान योजना से नागरिक सुविधाओं का विस्तार हुआ है और मितान की सेवाओं से सुविधाएं आसान हो रही है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button