City

बीरगांव जैसे श्रमिक बाहुल्य क्षेत्र में उच्च शिक्षा के प्रसार में शहीद नंद कुमार पटेल शासकीय महाविद्यालय की महत्वपूर्ण भूमिका होगी: मुख्यमंत्री भूपेश बघेल

मुख्यमंत्री ने 4.27 करोड़ की लागत से बने महाविद्यालय भवन का किया लोकार्पण

महाविद्यालय परिसर के समतलीकरण, स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी माध्यम स्कूल के नवीन भवन के निर्माण सहित शहीद नंद कुमार पटेल की मूर्ति स्थापना की घोषणा

रायपुर 27 सितंबर 2022/मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने आज यहां शहीद नंद कुमार पटेल शासकीय महाविद्यालय के नवनिर्मित भवन का लोकार्पण किया। उन्होंने कहा कि 4 करोड़ 27 लाख रुपए की लागत से निर्मित इस नवीन भवन से क्षेत्र में उच्च शिक्षा के प्रसार में महाविद्यालय की महत्वपूर्ण भूमिका होगी। उन्होंने कहा कि आज नवरात्रि का दूसरा दिन है। कॉलेज के नए भवन का शुभारंभ हो रहा है। उन्होंने सभी विद्यार्थियों, प्राध्यापकों, अभिभावकों और बीरगांव के लोगों को बधाई और शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा कि इस कॉलेज की स्थापना वर्ष 2017 में हुई थी, लेकिन भवन के अभाव में यह कॉलेज अब तक रावांभाठा के प्राइमरी स्कूल के भवन में संचालित हो रहा था।

मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि राज्य सरकार किसानों, मजदूरों, महिलाओं, युवाओं सहित सभी वर्गाे के हित के लिए काम कर रही है। उन्होंने कहा की शहीद नंदकुमार पटेल की स्मृति को अक्षुण्य रखने के लिए राज्य सरकार ने रायगढ़ में विश्वविद्यालय, बीरगांव में महाविद्यालय और नया रायपुर में चौक का नामकरण उनके नाम पर किया है।

मुख्यमंत्री श्री बघेल ने इस अवसर पर बीरगांव महाविद्यालय परिसर का समतलीकरण, स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी स्कूल के लिए भवन तथा महाविद्यालय में शहीद पटेल की मूर्ति स्थापना की घोषणा की। उन्होंने कहा की शिक्षा की गुणवत्त्ता में समझौता नही किया जाएगा। बच्चों को इस तरह शिक्षित करें कि देश में यहां की शिक्षा के बारे में चर्चा हो। मुख्यमंत्री ने कॉलेज के सभी प्राध्यापकों की प्रशंसा करते हुए कहा कि असुविधाओं के बीच भी बच्चों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा उपलब्ध कराने में उन्होंने लगातार मेहनत की। इसी का परिणाम है कि इस कॉलेज में विद्यार्थियों की संख्या में लगातार बढ़ोतरी हुई और आज यह संख्या लगभग 1000 तक पहुंच गई है। इस महाविद्यालय में छात्रों की तुलना में छात्राओं की संख्या ज्यादा है। यह खुशी की बात है कि लड़कियां और उनके अभिभावक उच्च शिक्षा को लेकर जागरूक हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि इस भवन में स्वामी आत्मानंद स्कूल का भी संचालन हो रहा है। इस तरह इस भवन का दोहरा लाभ क्षेत्रवासियों को मिल रहा है। उन्होंने इस महाविद्यालय में विभिन्न सुविधाओं के निर्माण में स्थानीय उद्योगों के सीएसआर मद से मिले सहयोग की सराहना की। मुख्यमंत्री ने कहा कि महाविद्यालय में अहाता निर्माण के लिए डीएमएफ से 13.56 लाख रूपए की स्वीकृति भी दी गई है। स्वामी आत्मानंद विद्यालय में फर्नीचर, लैब और लाइब्रेरी के लिए 24.87 लाख रुपए भी डीएमएफ मद से जिला शिक्षा अधिकारी को उपलब्ध कराए गए हैं। उन्होंने कहा कि आने वाले समय में इस कॉलेज और स्कूल परिसर में और भी सुविधाओं का विकास तेजी से कराया जाएगा। इस अवसर पर महाविद्यालय की पत्रिका प्रेरणा का विमोचन किया गया। राजीव युवा मितान क्लब को प्रथम किस्त 25 हजार रुपए का चेक भी प्रदान किया गया।

उच्च शिक्षा मंत्री श्री उमेश पटेल ने कहा कि राज्य में भवन विहिन महाविद्यालय के लिए प्राथमिकता से भवन बनाए जा रहे है। उन्होंने कहा कि राज्य में शिक्षा के क्षेत्र में नया आयाम गढ़ना है। विधायक श्री सत्यनारायण शर्मा ने कहा कि बच्चों के पढ़ने के लिए बड़े सुंदर भवन का आज लोकार्पण हुआ है। क्षेत्र के लोगों को पानी, बिजली और अन्य सुविधाएं आज सहज उपलब्ध हो रहा है।

इस अवसर पर राज्य खनिज विकास निगम के अध्यक्ष श्री गिरीश देवांगन, महापौर श्री नंद लाल देवांगन, जिला सहकारी केंद्रीय बैंक के अध्यक्ष श्री पंकज शर्मा, कुलपति श्री केशरी लाल वर्मा, कलेक्टर डॉ सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे, पार्षद गण, जनप्रतिनिधिगण, अभिभावक, छात्र-छात्राएं एवं बड़ी संख्या में नागरिक उपस्थित थे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button