nationalTop News

चंचल कुमार ने रची थी कन्नौज बवाल की पटकथा, पैसे देकर मंदिर में रखवाया था मांस, पुलिस ने किए कई और बड़े खुलासे

पिछले महीने कन्नौज में हुए साम्प्रदायिक बवाल के कारणों का सनसनीखेज खुलासा हुआ है। इस बवाल की पटकथा एक स्थानीय नेता चंचल कुमार ने रची थी, उसने एक कसाई को 10 हजार देकर मंदिर में मांस रखवाया था। जिसके बाद कन्नौज में भारी बवाल हो गया था। कई दुकानों में आगजनी हुई और डीएम एसपी को हटा दिया गया।

आस मोहम्मद

अब खुलासा हुआ है कि चंचल त्रिपाठी स्थानीय थाना प्रभारी हरिश्याम सिंह को हटवाना चाहता था। इसके लिए उसने यह षड्यंत्र किया। 12 अगस्त को गिरफ्तार किए गए मंसूर कसाई ने भी इस बात का खुलासा किया है।

आस मोहम्मद

आपको बता दें, कन्नौज के तालग्राम में यह बवाल पिछले महीने 16 जुलाई को हुआ था। कन्नौज के पुलिस कप्तान कुंवर अनुपम सिंह ने बताया कि पुलिस जांच में खुलासा हुआ है तत्कालीन तालग्राम थानाध्यक्ष हरिश्याम सिंह को हटवाने के लिए चंचल त्रिपाठी नामक व्यक्ति ने मंदिर में मांस रखवाकर सांप्रदायिक बवाल की साजिश रची थी और इस काम के लिए आरोपी ने एक कसाई को 10 हजार रुपए का लालच देकर मांस मंदिर में रखवाया था।

आस मोहम्मद

पुलिस के मुताबिक मुख्य आरोपी चंचल त्रिपाठी की थानाध्यक्ष से कुछ अन-बन थी और वो उसे हटवाना चाहता था।‌ आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।‌

आस मोहम्मद

पुलिस ने इस घटना में दो एफआईआर दर्ज करते हुए 17 लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेजा था। इस घटना के बाद शासन ने इस मामले में कार्रवाई करते हुए कन्नौज के तत्कालीन डीएम राकेश कुमार मिश्र और तत्कालीन एसपी राजेश कुमार श्रीवास्तव को हटा दिया था और साथ ही लापरवाही बरतने के आरोप में तालग्राम के प्रभारी थानाध्यक्ष हरिश्याम सिंह, तालग्राम थाने के दो उपनिरीक्षक विनय कुमार और राम प्रकाश को निलंबित कर दिया था।‌

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button