City

शांति और सौहार्दपूर्ण माहौल में मनाए जाएंगे सभी त्यौहार जिला स्तरीय शांति समिति की बैठक सम्पन्न

अम्बिकापुर 5 अगस्त 2022/ कलेक्टर श्री कुंदन कुमार की अध्यक्षता में गुरुवार को कलेक्टोरेट सभाकक्ष में जिला स्तरीय शांति समिति की बैठक आयोजित की गई। बैठक में माह अगस्त में होने वाले विश्व आदिवासी दिवस, मोहर्रम, रक्षाबंधन एवं गणेश चतुर्थी त्यौहार शांति एवं सौहार्दपूर्ण माहौल में मनाने सर्व सम्मति से निर्णय लिया गया।

इसके साथ ही इस बार त्यौहार में रैली व जुलूस के साथ त्यौहार मनाये जाने को दृष्टिगत रखते हुए रैली व जुलूस निकालने में समय का बेहतर प्रबंधन करते हुए किसी प्रकार की टकराव की स्थिति उत्पन्न नहीं होने देने पर विशेष जोर दिया गया। सोशल मीडिया के माध्यम से भड़काऊ, अफवाह व भ्रामक वीडियो, संदेश आदि फैलाने वालों पर नियंत्रण के लिए सामाजिक स्वतः नियामक समिति के माध्यम से संबंधित को समझाइश देने की बात कही गई।

कलेक्टर श्री कुन्दन कुमार ने कहा कि जिस परंपरा से सरगुज़ा में त्यौहार मनाया जाता है उसी परंपरा के अनुरूप आगे भी मनाते रहेंगे। शांति भंग नहीं होने देना है। उन्होंने कहा कि इस महीने से त्यौहारों का सिलसिला शुरू हो जाएगा। त्यौहार मनाने की जो परिपाटी शुरुआत में की जाए वहीं पूरे साल भर के लिए बनी रहे।

जिला प्रशासन, पुलिस प्रशासन व अधिकारी-कर्मचारी इस परंपरा के निर्वहन में कोई समस्या न हो यह सुनिश्चित करेंगे। उन्होंने विभिन्न त्यौहार में समुदाय द्वारा निकाले जाने वाले रैली के मार्ग निर्धारण के लिए समाज प्रमुख, जिला प्रशासन एवं पुलिस प्रशासन के साथ बैठक कर रूप रेखा तय करने कहा।

उन्होंने त्यौहार मनाए जाने के सम्बंध में सदस्यों द्वारा दिये गए सुझाओं व मांगो को जिला प्रशासन द्वारा हर संभव पूरा करने का आश्वासन दिए। शहर के कई सड़कों की मरम्मत के लिए प्रस्ताव आने पर तत्काल आवश्यक कार्यवाही करने की बात कही।
पुलिस अधीक्षक श्रीमती भावना गुप्ता ने कहा कि धार्मिक आयोजनों के दौरान जुलूस निकालने के पूर्व आयोजक प्रशासन से अनुमति जरूर लें।

आयोजनों में डीजे की साउंड रात्रि 10 बजे के बाद जो डेसिबल तय किया गया है वही होनी चाहिए। डीजे में गाना चलाने में भी आयोजन समिति को एक दूसरे की भावनाओं का ध्यान रखना होगा। उन्होंने कहा कि मोहर्रम में ताजिया के झंडे की उंचाई 20 फिट से ज्यादा न हो। लंबी दूरी तक जुलूस निकालने के बजाय कम दूरी तक का ही प्रस्ताव न बनाएं। जुलूस में छोटे बच्चों को शामिल न करें ।

महापौर डॉ अजय तिर्की ने कहा कि सौहार्दपूर्ण वातावरण में सभी त्यौहार मनाए जाएंगे। जुलूस धार्मिक व आस्थापूर्ण होनी चाहिए। इसे शक्ति प्रदर्शन कदापि न बनाएं। समाज के लोगों को इस पर नजर रखनी चाहिए। पार्षद श्री आलोक शुक्ला ने कहा कि गणेश चतुर्थी में मूर्ति विसर्जन स्थल में विद्युत व लाइट की व्यवस्था तथा विसर्जन के बाद तालाबों के साफ-सफाई की व्यवस्था होनी चाहिए।

मूर्ति विसर्जन के लिए तालाबों की संख्या भी सीमित करने की आवश्यकता है। पार्षद श्री द्वितेन्द्र मिश्रा व श्री धर्मेन्द्र सिंह टिन्नी ने अपनी बात रखते हुए कहा कि धार्मिक आयोजनों में समितियों को प्रशासन का सहयोग करना चाहिए। विसर्जन के दिन तालाबो में गोताखोर तथा निर्धारित पॉइंट पर एम्बुलेंस की व्यवस्था होनी चाहिए।

विश्व आदिवासी दिवस मनाए जाने एवं इस दिन के आयोजन के संबंध में श्री अनुप टोप्पो ने बताया कि 9 अगस्त को अजिरमा से बाइक रैली निकाली जाएगी जो शहर के प्रमुख चौक-चौराहों से गुजरेगी। इस अवसर पर जिला प्रशासन द्वारा आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री वर्चुल माध्यम से जुड़ेंगे और समाज के लोगों से संवाद करेंगे।

मोहर्रम मनाए जाने के संबंध में गौसिया कमेटी के द्वारा बताया गया कि इस वर्ष 9 अगस्त को हर्षोल्लास के साथ मोहर्रम मनाया जाएगा। इस बार 10 ताजिया निकलेंगे जो श्रीगढ़ से सद्भावना चौक व कोठीघर के बगल से वापस लौटेगी। ताजिया व अलम के लिए सभी चौक-चौराहों पर होने वाली जुलूस की तैयारी चल रही है।

श्री जे.पी. श्रीवास्तव, श्री कर्ता राम, श्री अनिल सिंह मेजर एवं श्री कैलाश मिश्रा ,श्री अशोक अग्रवाल ने भी अपनी बात रखी।
बैठक में जिला पंचायत सी.ई.ओ. श्री विनय कुमार लंगेह, नगर निगम आयुक्त सुश्री प्रतिष्ठा ममगई, अपर कलेक्टर श्री ए.एल. ध्रुव, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री विवेक शुक्ला, एस.डी.एम. श्री प्रदीप साहू सहित शांति समिति के सदस्य व विभिन्न समुदाय के प्रतिनिधि उपस्थित थे।

अपने मोबाइल पर REAL TIMES का APP डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button