State

बिना शर्त माफ़ी मांग कर इस्तीफ़ा दें छग के मुख्यमंत्री – अनिल जैन

pm मोदी से इस्तीफा मांगे अनिल जैन,कांग्रेस का पलटवार

रायपुर(realtimes) भारतीय जनता पार्टी के छत्तीसगढ़ प्रभारी डॉ. अनिल जैन ने प्रदेश की कांग्रेस सरकार पर किसानों के साथ धोखाधड़ी करने का आरोप लगाया है। डॉ. जैन ने कहा कि कांग्रेस अपने वादे से मुंह चुरा रही है और प्रदेश का किसान खुद को ठगा-सा महसूस कर रहा है। इससे साफ है कि कांग्रेस ने सिर्फ सत्ता हासिल करने के लिए ही किसानों से झूठ बोला।

भाजपा प्रदेश प्रभारी डॉ. जैन ने कहा कि कर्जा माफी,  25सौ रुपए प्रति क्विंटल की दर पर धान खरीदी और दो साल के बकाया बोनस देने का वादा कांग्रेस का कागजी वादा साबित हुआ है।  कांग्रेस के अकुशल नेतृत्व के पास अपने इन वादों को पूरा करने का कोई सुस्पष्ट दृष्टिकोण और आर्थिक प्रबंधन नहीं था। नीयत, नीति और नेतृत्व की अकुशलता के चलते हासिल हो रही नाकामियों के बोझ तले दबी प्रदेश सरकार अब अकारण केंद्र सरकार पर ठीकरा फोडऩे की कोशिश कर रही है। डॉ. जैन ने कहा कि इन झूठे वादों की बुनियाद पर कांग्रेस की चुनावी जीत हुई है, और अब इस वादाखिलाफी का सारा खामियाजा प्रदेश के किसानों को उठाना पड़ रहा है। किसानों के साथ ठगी का काला अध्याय लिखने वाले मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को अब एक क्षण भी सत्ता में बने रहने का नैतिक अधिकार नहीं रह गया है। जैन ने कहा कि सीएम को प्रदेश से बिना शर्त माफी मांगकर इस्तीफा दे देना चाहिए।

भाजपा प्रदेश प्रभारी डॉ. जैन ने कहा कि धान खरीदी के मुद्दे पर अब कांग्रेस जिस तरह बेनकाब हुई है, उससे यह भी साफ हो गया है कि लोकसभा चुनाव के दौरान घोषित न्याय योजना का भी कोई ठोस आर्थिक आधार व दृष्टिकोण कांग्रेस नेताओं के पास नहीं था। कांग्रेस ने अपने इन हथकंडों से देश को गुमराह करने की शर्मनाक कोशिश जरूर की लेकिन जागरूक नागरिकों ने कांग्रेस के मंसूबों पर पानी फेर दिया।

डॉ. जैन ने मोदी सरकार के धान के मुद्दे पर नीतिगत निर्णय को उचित बताया। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार किसानों को अधिक से अधिक लाभ देने की कोशिश करती रही है। फ़सल की क़ीमत तय करने का काम भावना पर नहीं, आर्थिक यथार्थ पर किया जाता है।

डॉ जैन ने किसानों से तत्काल 25सौ रुपए प्रति क्विंटल की दर पर धान खरीदने की पुरजोर मांग प्रदेश सरकार से की है और यदि प्रदेश सरकार यह नहीं करती है तो वह तुरंत इस्तीफा दे।

कांग्रेस का पलटवार

अनिल जैन के बयान पर कांग्रेस ने पलटवार किया है। प्रदेश कांग्रेस महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि 2500 रू. प्रति क्विंटल धान के दाम के रास्ते में दीवार बन कर खड़े मोदी से अनिल जैन इस्तीफा मांगे। भाजपा प्रभारी अनिल जैन को छत्तीसगढ़ के किसानों के हित को बाधित करने वाले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से इस्तीफा मांगना चाहिए। कांग्रेस की सरकार ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का तो ढाई हजार रुपए देने का संकल्प है अनिल जैन जी। अनिल जैन जी ठीक तरीके से धान खरीदी के तथ्यों की जानकारी तो ले ले। अनिल जैन जी दिल्ली में रहते हैं और उन्हें छत्तीसगढ़ के तथ्यों की सही जानकारी नहीं है। किसानों को ढाई हजार रुपए धान का दाम देने का रास्ता तो मोदी जी ने रोका है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी ने कहा है कि उनके अहंकार को प्रणाम है, हम किसानों को ढाई हजार रुपए दाम देंगे।

त्रिवेदी ने कहा है कि कृषि प्रधान देश के प्रधानमंत्री मोदी के पास देश के किसानों के लिए कोई सार्थक योजना नहीं है। मोदी भाजपा किसानों को ना दूंगा, ना किसी को देने दूंगा की नीति पर काम कर रहे है। स्वामीनाथन कमेटी की सिफारिश को लागू करने का वादा कर किसानों का वोट पाकर सत्ता सुख भोग रहे मोदी जी निरंतर किसानों के साथ धोखा छल फरेब कर रहें है। किसानों की आय दोगुनी करने का दम भरने वाले मोदी सरकार किसानों के सम्मान के नाम से  किसानों का अपमान निरंतर कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि किसान विरोधी मोदी सरकार सेंट्रल पूल में चावल लेने के नियम मे फेरबदल कर किसानों के हित में बाधा उत्पन्न करने का अन्याय पूर्ण कार्य कर रहे हैं। भाजपा नेता अनिल जैन में जरा सी भी नैतिकता है किसानों की आय दोगुनी करने की इच्छा है तो तत्काल किसान विरोधी एनडीए सरकार के मुखिया श्री नरेंद्र मोदी से इस्तीफा मांगें।

अपने मोबाइल पर REAL TIMES का APP डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button