Sports

Mandhana : ऑस्ट्रेलिया को मजबूत टीम नहीं मानूंगी

बेंगलुरु | राष्ट्रमंडल खेलों में पहली बार शामिल किये गये महिला क्रिकेट के शुरुआती मुकाबले में भारतीय टीम के सामने पांच बार की टी20विश्व चैम्पियन ऑस्ट्रेलिया की चुनौती होगी लेकिन अनुभवी सलामी बल्लेबाज स्मृति मंधाना ने इस प्रतिद्बंद्बी को मजबूत मानने से इनकार कर दिया।हरमनप्रीत कौर की अगुवाई में भारत राष्ट्रमंडल खेलों में अपने अभियान को 29 जुलाई को शुरू करेगा। मंधाना ने कहा कि टीम ने अपने हर प्रतिद्बंद्बी के लिए योजनाएं बनायी है।इंग्लैंड रवाना होने से पहले उन्होंने यहां ऑनलाइन मीडिया सत्र में कहा, ''हमने कई टूर्नामेंटों के शुरूआती मैचों में ऑस्ट्रेलिया का सामना किया है।

भारतीय उपकप्तान ने कहा, '' टी20टूर्नामेंट में कोई भी टीम किसी भी को मात दे सकती है। मैं ऑस्ट्रेलिया को एक बड़ी टीम कह कर उन्हें इसके बारे में अच्छा महसूस नहीं कराना चाहूंगी। निश्चित रूप से हमारे दिमाग में ऑस्ट्रेलिया, पाकिस्तान और बारबाडोस के मैच महत्वपूर्ण हैं। हम इन सभी मैचों को जीतना चाहेंगे।भारत को इस साल के शुरुआत में टी20विश्व कप के अपने पहले मैच में ऑस्ट्रेलिया से हार का सामना करना पड़ा था।भारतीय टीम श्रीलंका में एकदिवसीय और टी 20 श्रृंखला जीतकर बîमघम राष्ट्रमंडल खेलों के लिए जायेगी और स्मृति ने कहा, '' हमारी तैयारी वास्तव में अच्छी है और मुझे उम्मीद है कि हम पदक के साथ लौटेंगे। हमारा लक्ष्य सिर्फ शीर्ष तीन में रहना नहीं है, हम स्वर्ण जीतना चाहते है।

भाला फेंक खिलाड़ी नीरज चोपड़ा के पिछले साल तोक्यो ओलंपिक में स्वर्ण पदक जीतने की उपलब्धि से भारतीय टीम प्रभावित है। मंधाना ने कहा कि टीम अपने पहले बहु-खेल आयोजन में उनकी उपलब्धि से प्रेरणा लेगी।बायें हाथ की इस बल्लेबाज ने कहा, ''हम सभी ने ओलंपिक और राष्ट्रमंडल खेलों को देखा है, जब भारतीय ध्वज ऊंचा होता है और हम राष्ट्रगान सुनते हैं। हम जानते हैं कि यह किस तरह की भावना पैदा करता है।उन्होंने कहा, '' निश्चित रूप से हमने स्वर्ण जीतने का लक्ष्य बनाया है। मुझे नहीं लगता कि हम सिर्फ पोडियम फिनिश (शीर्ष तीन) की तलाश करेंगे।

उन्होंने कहा, ''जब नीरज ने तोक्यो ओलंपिक में स्वर्ण पदक जीता तो सचमुच मेरे रोंगटे खड़े हो गये थे। हमारे पास उस तरह की उपलब्धि हासिल करने का मौका है। बेशक यह ओलंपिक के लिए नहीं बल्कि राष्ट्रमंडल के लिए, लेकिन हम सभी वास्तव में उत्साहित हैं।भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया, पाकिस्तान और बारबडोस के साथ ग्रुप ए में है जबकि इंग्लैंड, न्यूजीलैंड, दक्षिण अफ्रीका और श्रीलंका ग्रुप बी में है। दोनों ग्रुप की शीर्ष दो टीमें सेमीफाइनल में पहुंचेंगी और सात अगस्त को तीनों पदक के लिए मैच खेले जायेंगे।इस 26 साल की खिलाड़ी ने कहा, '' हमारी कोशिश हर मैच को जीतने की होगी। हमनें तीनों टीम (ग्रुप चरण) के लिए योजना बनायी है । हम इन सभी मैचों को जीतना चाहेंगे।

उन्होंने कहा कि पिछले कुछ वर्षां में भारतीय टीम में कई मैच विजेता खिलाड़ी उभरे हैं।उन्होंने कहा, '' हमारी किस्मत अच्छी है कि पिछले कुछ वर्षों में टी20क्रिकेट में कई खिलाड़ी मैच विजेता के तौर पर उभरे हैं। किसी खास दिन अगर दो-तीन बल्लेबाज या गेंदबाज ने अच्छा प्रदर्शन किया तो हम मैच में अच्छा करेंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button