State

स्वतंत्रता संग्राम सेनानी के नाम पर रखी गई संस्था के आवेदन को अग्रेषित किया था मंत्री अकबर ने

किसी संस्था को भूमि आबंटन की कोई अनुशंसा नहीं की गई
जिला पंचायत सदस्य विजय शर्मा का कथन पूरी तरह से कपोल कल्पित

कवर्धा(realtimes) प्रदेश के वन, परिवहन, आवास एवं पर्यावरण मंत्री मोहम्मद अकबर पर जिला पंचायत सदस्य विजय शर्मा द्वारा लगाया गया आरोप पूरी तरह से बे-बुनियाद, तथ्यहीन, मिथ्या व असत्य है। कैबिनेट मंत्री ने स्वतंत्रता सेनानी के नाम पर रखी गई संस्था मासा एजुकेशन एण्ड वेलफेयर सोसायटी रायपुर के आवेदन को एस.डी.एम. रायपुर को सिर्फ अग्रेषित किया है। किसी संस्था को भूमि आबंटन की कोई अनुशंसा नहीं की गई है।

स्वतंत्रता संग्राम सेनानी मोहम्मद अली जौहर, मौलाना शौकत अली, (मासा) एजुकेशन एण्ड वेलफेयर सोसायटी, रायपुर पंजीयन क्रमांक 10904, दिनांक 16.01.2007 ने स्कूल संचालन के लिए भूमि आबंटन हेतु आवेदन दिया था। मासा एजुकेशन सोसायटी ने मठपुरैना 6500 वर्ग फीट भूमि स्कूल के लिए आबंटित करने के लिए आवेदन दिया था।

स्वतंत्रता संग्राम सेनानी के नाम पर रखी गई संस्था मासा एजुकेशन सोसायटी जो कि पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह सरकार के कार्यकाल में पंजीकृत संस्था है, के आवेदन को मात्र अग्रेषित किया गया था। मासा एजुकेशन सोसायटी के आवेदन की प्रति को दिखाकर जिला पंचायत सदस्य विजय शर्मा द्वारा कपोल कल्पित आरोप लगाया जा रहा है जो कि अत्यंत ही आपत्तिजनक है। जिला पंचायत सदस्य विजय शर्मा ने स्वयं ही इस आवेदन की प्रति का ठीक से अवलोकन नहीं किया है। उन्हें चाहिए कि वे पहले स्वतंत्रता संग्राम सेनानी के नाम पर रखी गई संस्था मासा एजुकेशन सोसायटी के आवेदन का भली-भांति अवलोकन कर ले। इससे स्वयं उन्हें यह अवगत हो जाएगा कि वे आधारहीन व असत्य बात कर रहे हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button