VideoViral

असम बाढ़ पीड़ितों की मदद कर रही ये IAS,नाव से पहुंची गांव, फिर नंगे पांव कीचड़ में उतरकर ऐसे किया काम

असम बाढ़ पीड़ितों की मदद कर रही ये IAS,नाव से पहुंची गांव, फिर नंगे पांव कीचड़ में उतरकर ऐसे किया काम

असम बाढ़ पीड़ितों की मदद कर रही ये IAS

असम में बाढ़ (Flood in Assam)और भूस्खलन(Landslide)के कारण वहां के लोगों का जीवन बुरी तरह से प्रभावित हो चुका है. राज्य के 22 जिलों में सैलाब के कारण 7.2 लाख से ज्यादा लोग प्रभावित हैं. चारों ओर कीचड़ ही कीचड़ है. लोगों के घर तबाह हो चुके हैं. कई लोग बाढ़ में बह गए. फसलें बर्बाद हो गई. जिलों में राहत शिविर और वितरण केंद्र चलाए जा रहे हैं. इसी बीच लोगों के बीच एक महिला आईएएस अधिकारी की काफी चर्चा हो रही है. जो दफ्तर में बैठकर मीटिंग करने के बजाय ग्राउंड पर जाकर लोगों की मदद करने के लिए हालातों का जायजा ले रही है.

यह भी पढ़ें

सोशल मीडिया पर कछार जिले की उपायुक्त आईएएस कीर्ति जल्ली (IAS Keerthi Jalli)की तस्वीरें खूब वायरल हो रही हैं. हर कोई सोशल मीडिया पर इनके काम की सराहना कर रहा है. आप तस्वीरों में देख सकते हैं कि उन्होंने साड़ी पहनी हुई है और बिल्कुल आम महिलाओं की तरह ही लोगों के बीच जाकर हालातों का जायजा ले रही हैं. वो उनके साथ खड़े होकर उनकी परेशानियां सुन रही हैं.

देखें Photos:

आईएएस की सोशल मीडिया पर एक तस्वीर वायरल हुी थी जिसमें वो नाव में बैठकर बाढ़ प्रभावित इलाकों का जायजा लेने जा रही है. उनका कहना है कि असम के लोगों ने बताया कि पिछले 50 साल से वो इसी तरह से बाढ़ से परेशान हो रहे हैं. ऐसे में बतौर अधिकारी वो अपने काम को सही तरीके से करने के लिएग्राउंड पर उतरी हैं. सोशल मीडिया पर आईएएस अधिकारी अवनीश शऱण ने उनकी एक तस्वीर शेयर की है.. फोटो में वो एक महिला के साथ खड़ी दिख रही हैं. ये फोटो देखने के बाद हर कोई उनकी तारीफ कर रहा है.

लोगों का कहना है कि इतने सालों में पहली बार ऐसा हुआ कि है कोई आईएएस अधिकारी उनके पास आकर उनकी परेशानियां सुन रहा है. बता दें कि कीर्ति जल्ली को असम में काफी पसंद किया जाता है. वो कोरोना काल में भी चर्चा में रही थी. वो 2013 बैच की IAS हैं. कोरोना काल में वो शादी के अगले ही दिन ड्यूटी पर आ गई थीं.  

स्टेडियम में कुत्ते को सैर कराने वाले IAS संजीव खिरवार का लद्दाख तो पत्नी का अरुणाचल ट्रांसफर

अपने मोबाइल पर REAL TIMES का APP डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button