Sports

IPL 2022 : हमने चौके छक्के लगाने की कोशिश की लेकिन उन्होंने बेहतरीन गेंदबाजी की : राहुल

कोलकाता : रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर के खिलाफ आईपीएल एलिमिनेटर में मिली हार के बाद लखनऊ सुपर जाइंट्स के कप्तान के एल राहुल ने स्वीकार किया कि उनकी टीम को बीच के ओवरों में दो बड़े शॉट्स की जरूरत थी । राहुल ने मैच के बाद प्रेस कांफ्रेंस में कहा ,'' बीच के ओवरों में दो बड़े शॉट खेलने से मैच की तस्वीर बदल सकती थी । अब देखने पर ऐसा ही लगता है ।

पावरप्ले के बाद सात ओवरों के दौरान राहुल एक ही चौका लगा सके जबकि वह इतने काबिल बल्लेबाज हैं कि दुनिया के किसी भी गेंदबाजी आक्रमण की बखिया उधेड़ सकते हैं । इस सत्र में उन्होंने दो शतक और चार अर्धशतक लगाये हैं लेकिन लक्ष्य का पीछा करते हुए बल्लेबाजी पर उन्हें मेहनत करनी होगी । लखनऊ की टीम लक्ष्य का पीछा करते हुए सात में से पांच मैच हारी है । राहुल ने कहा ,'' हमने कुछ मैच जीते लेकिन लक्ष्य का पीछा करते हुए उतने कामयाब नहीं रहे । हमें यह सीखना होगा । मेरे लिये बाकी सत्र की तरह यह सत्र भी अच्छा सबक रहा । एक टीम के रूप में यह काफी चुनौतीपूर्ण था और हमने बहुत कुछ सीखा ।

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ आगामी श्रृंखला में भारतीय टीम की कमान संभालने जा रहे राहुल ने 15 मैचों में 616 रन बनाये । उन्होंने कहा ,'' यह बड़ा मैच था और बड़े मैच में आप अपना फॉर्म और पिछले 14 मैचों के रन भूल जाते हैं ।इसे नये मैच की तरह ही खेलकर अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने की कोशिश करते हैं ।मैने भी एलिमिनेटर में वही किया लेकिन मुझे बहुत कुछ सीखने को मिला । उन्होंने कहा ,'' ऐसा नहीं है कि हमने चौके छक्के लगाने की कोशिश नहीं की लेकिन बीच के ओवरों में उन्होंने शानदार गेंदबाजी की । हर्षल के दो ओवरों ने हम पर दबाव बना दिया ।

उसने दो ओवर में आठ ही रन दिये । उन्होंने यह भी कहा कि लचर क्षेत्ररक्षण ने टीम की राह और मुश्किल कर दी । उन्होंने कहा ,'' हमने कई आसान कैच टपकाये । मैने दिनेश कार्तिक का कैच छोड़ा जब वह दोहरे अंक तक नहीं पहुंचा था । रजत पाटीदार को जीवनदान मिले । इसके बावजूद हमने अपनी ओर से पूरी कोशिश की और 208 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए दो बड़े शॉट से चूक गए ।

अपने मोबाइल पर REAL TIMES का APP डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button