national

दिल्ली, पंजाब और हरियाणा में 3 मई से प्रचंड गर्मी से मिल सकती है राहत, धूलभरी आंधी से गिरेगा पारा, बूंदाबांदी की भी संभावना

नयी दिल्ली, 29 अप्रैल (एजेंसी) 

प्रचंड गर्मी से हलकान सभी लोगों के लिए धूलभरी आंधी राहत का संदेश लेकर आएगी। अभी जहां दिल्ली-एनसीआर समेत हरियाणा, पंजाब के कई इलाकों में पारा 45 पार कर चुका है, वहीं दो दिन बाद कुछ इलाकों में पश्चिमी विक्षोभ के सक्रिय होने एवं तेज हवाएं, धूलभरी आंधी चलने से पारा गिरेगा और कहीं-कहीं राहत की बूंदें भी बरसेंगी।

 मौसम विभाग के अनुसार शनिवार-रविवार को पश्चिमी उत्तर प्रदेश, हरियाणा, पंजाब एवं दिल्ली समेत अनेक इलाकों में 50 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलने के साथ ही आंशिक रूप से बादल छाए रहेंगे, हल्की बारिश और धूल भरी आंधी भी चल सकती है, जिससे लोगों को कुछ समय के लिए राहत मिलने उम्मीद है। पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव के कारण सोमवार से लू के कुछ हद तक थमने की उम्मीद है। पहाड़ी इलाकों में कहीं तेज बारिश तो कहीं बूंदाबांदी की संभावना जताई गयी है।

 भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने कहा है कि इस वक्त उत्तर भारत के ज्यादातर मैदानी इलाकों के लोग भीषण लू का सामना कर रहे हैं। गौर हो कि मैदानी इलाकों में तापमान 40 डिग्री सेल्सियस से अधिक या सामान्य से 4.5 डिग्री सेल्सियस अधिक होने पर गर्म हवाओं को ‘लू’ घोषित किया जाता है। सामान्य से 6.4 डिग्री अधिक तापमान होने पर ‘भीषण लू’ की घोषणा की जाती है। दिल्ली की सफदरजंग वेधशाला में शुक्रवार को अधिकतम तापमान 43.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो पिछले 12 साल में अप्रैल महीने में सर्वाधिक तापमान है। राष्ट्रीय राजधानी में 18 अप्रैल 2010 को अधिकतम तापमान 43.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था। दिल्ली में अप्रैल महीने में अभी तक का सर्वाधिक तापमान 45.6 डिग्री सेल्सियस 29 अप्रैल 1941 को दर्ज किया गया था।

मौसम विभाग ने कहा कि एक-दो दिन में राजस्थान, दिल्ली, पंजाब और हरियाणा में दो से चार मई के बीच हल्की बारिश और गरज के साथ छींटे पड़ने की संभावना है। इसके चलते अधिकतम तापमान 36 से 39 डिग्री सेल्सियस के बीच दर्ज किया जा सकता है। मौसम विभाग ने एक-दो दिनों के लिए ‘ऑरेंज अलर्ट’ जारी किया है। मौसम विज्ञान विभाग, मौसम की चेतावनियों के लिए चार रंग के अलर्ट जारी करता है। ‘ग्रीन अलर्ट’ (कोई कार्रवाई की आवश्यकता नहीं), ‘येलो अलर्ट’ (स्थिति पर नजर रखें), ‘ऑरेंज अलर्ट’ (स्थिति से निपटने के लिए तैयार रहें) और ‘रेड अलर्ट’ (स्थिति से निपटने लिए कदम उठाएं)।

 

 

 

अपने मोबाइल पर REAL TIMES का APP डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें
advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button