business

PhonePay और नीति आयोग ने की फिनटेक हैकथॉन विजेताओं की घोषणा

 डिजिटल   भुगतान प्लेटफॉर्म फोनपे ने नीति आयोग के साथ मिलकर बुधवार को वर्चुअल पुरस्कार समारोह में ‘फिनटेक ओपन हैकथॉन’ के विजेताओं की घोषणा की। पहला पुरस्कार बिजफिज नामक एक हैक को दिया गया, जो एमएसएमई के लिए ऋण आवेदन प्रक्रियाओं को आसान बनाने और बैंकों के लिए ऋण हामीदारी की प्रक्रिया को आसान बनाने के लिए एक समाधान है।

फोनपे के सीटीओ राहुल काउंट एग्रीगेटर पर फोकस के साथ ओपन डेटा’ पर केंद्रित फिनटेक हैकथॉन, फिनटेक स्पेस में कुछ प्रतिभाशाली दिमागों को एक साथ लाया है।’’ दूसरा पुरस्कार साहित्य नामक एक हैक को दिया गया, जो अपने सभी  उपयोगकर्ताओं के लिए वन-स्टॉप शॉप है जो व्यक्तिगत वित्त प्रबंधन उपकरण के रूप में कार्य करता है। विजुअलपे को दूसरा पुरस्कार भी  मिला। यह एक व्यक्तिगत वित्त प्रबंधन प्रणाली है जो अपने उपयोगकर्ताओं की सभी वित्तीय जानकारी एकत्र करती है और उसे एक स्थान पर रखती है।

एल्थसिस नामक एक हैक को तृतीय पुरस्कार से सम्मानित किया गया। यह उपयोगकर्ता के बैंक डेटा का विश्लेषण करके और स•ाी प्रासंगिक डेटा को एक ही स्थान पर प्रदर्शित करके कई बैंक खातों के प्रबंधन की समस्या को हल करता है।

अंतिम हैकथॉन पुरस्कार वित्तीय भलाई नामक एक हैक के पास गया। यह एक ऐसा ऐप है जो बचत की प्रक्रिया को सरल बनाकर अपने उपयोगकर्ताओं की वित्तीय भलाई में सुधार करने में मदद करता है। हैकथॉन, जो नीति आयोग द्वारा महीने भर चलने वाले फिनटेक ओपन इवेंट का एक हिस्सा था, इसमें कुछ प्रोवोकिंग कीनोट्स, गहन फायरसाइड चैट और पैनल चर्चा देखी गई।

चारी ने कहा, ‘‘मेरे लिए मुख्य बात यह है कि भारत में वित्तीय समावेशन के बड़े लक्ष्य को त•ाी प्राप्त किया जा सकता है जब हम इस बात की सीमाओं को तोड़ना शुरू कर दें कि कैसे व्यक्तियों द्वारा उनकी सहमति से और उन संगठनों के साथ डेटा साझा किया जा रहा है जो वास्तव में वित्तीय समावेशन को एक तरीके से ला सकते हैं। जो बाजार को विकसित करने और विस्तार करने के लिए स्वस्थ प्रतिस्पर्धा को प्रोत्साहित और प्रेरित बनाता है।’’

उन्होंने आग कहा, ‘‘खाता एग्रीगेटर ढांचा व्यक्तिगत रूप से यूपीआई के बाद मेरे लिए सबसे रोमांचक चीजों में से एक है और मैं यह सुनिश्चित करने के लिए उत्सुक हूं कि फोनपे एक लाइसेंस धारक के रूप में खाता एग्रीगेटर नेटवर्क में योगदान देता है और साथ ही देश में उधार का विस्तार करने के लिए ढांचे का उपयोग करता है।’’ हैकथॉन एंट्रीस ने अपने हैक विकसित करने के लिए फोनपे पल्स, ओपन गवर्नमेंट डेटा प्लेटफॉर्म, भुगतान पर आरबीआई रिपोर्ट आदि जैसे सुलभ ओपन डेटा प्लेटफॉर्म का उपयोग करके पथ-प्रदर्शक समाधान और नवीन विचारों का प्रदर्शन किया।

नीति आयोग के वरिष्ठ सलाहकार, अन्ना रॉय ने कहा, ‘‘नीति आयोग फिनटेक महीना पहली घटना है जिसे हम अपने अनुभव स्टूडियो के एक हिस्से के रूप में मना रहे हैं। आगे जाकर हम हर महीने एक विशेष तकनीक का प्रदर्शन करेंगे और इस बात पर प्रकाश डालेंगे कि यह आम आदमी के जीवन में कैसे प्रभाव डाल सकता है।’’

रॉय ने कहा, ‘‘आज जिस तरह के समाधान प्रस्तुत किए गए हैं, वे हमें वित्तीय समावेशन के दूसरे चरण में ले जाएंगे। जबकि पहला चरण •ाारत स्टैक, जन-धन खाता और यूपीआई जैसे संस्थानों और बुनियादी ढांचे के मंच बनाने के बारे में था, अब अंतिम मील को देखने और औपचारिक वित्तीय तह के •ाीतर अंडर-सर्विस लाने का समय है।’’

अपने मोबाइल पर REAL TIMES का APP डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button