City

पांच मिनट पहले दी बैठक की सूचना, किसानाें ने किया बहिष्कार, अब फिर से होगी बैठक

रायपुर(realtimes) राज्य सरकार द्वारा बुलाई गई बैठक की किसान नेताओं काे महज पांच मिनट पहले सूचना मिलने पर इस बैठक का बहिष्कार कर दिया गया। किसान नेता रुपन चंद्राकर का कहना है, बैठक की लिखित सूचना पहले से देने की बात गलत है। वाट्सऐप पर 1.55 काे सूचना मिली, जबकि बैठक दाे बजे रखी गई थी। ऐसे में बैठक में जाना कैसे संभव हाे सकता है।

आवास एवं पर्यावरण तथा वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री मोहम्मद अकबर की अध्यक्षता में आज राजधानी के शंकर नगर स्थित उनके निवास कार्यालय में नवा रायपुर अटल नगर में आंदोलनरत किसानों के संबंध में एक महत्वपूर्ण बैठक आहूत की गई थी। बैठक में नगरीय प्रशासन मंत्री एवं आरंग विधायक डॉ. शिवकुमार डहरिया, विधायक अभनपुर धनेन्द्र साहू एवं अपर मुख्य सचिव सुबत साहू तथा संचालक ग्राम एवं नगर निवेश जय प्रकाश मौर्य सहित नवा रायपुर विकास प्राधिकरण के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

बैठक में निर्धारित समय के उपरांत भी शंकर नगर स्थित आवास मंत्री श्री अकबर के निवास कार्यालय में नई राजधानी प्रभावित किसान कल्याण समिति के कोई भी पदाधिकारी तथा सदस्य उपस्थित नहीं हुए। इस दौरान नगरीय प्रशासन मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया ने बताया कि बैठक में किसान कल्याण समिति के अध्यक्ष रूपन चन्द्राकर तथा कार्यकारी अध्यक्ष समिति की उपस्थिति के लिये पूर्व सहमति प्रदान की गई थी। डॉ. डहरिया ने बताया कि किसान कल्याण समिति ने बैठक में उपस्थिति के लिए लिखित में पत्र देने कहा, लिखित में भी बैठक में उपस्थिति की सूचना दी गई, लेकिन किसान कल्याण समिति के पदाधिकारी उपस्थित नहीं हुए। अब किसान कल्याण समिति से चर्चा उपरांत पुनः अलग से तिथि निर्धारित की जाएगी। इधर किसान नेता रुपन चंद्राकर ने साफ कहा है, बैठक की सूचना ही विलंब से मिली थी ताे बैठक में कैसे जाते।

गौरतलब है कि विगत दिवस वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री मोहम्मद अकबर ने छेरछेरा के पावन पर्व के अवसर पर उनके शंकरनगर स्थित शासकीय निवास कार्यालय छेरछेरा मांगने आये नवा रायपुर के किसानों को बड़ी ही विनम्रता और सम्मान के साथ धान का दान दिया था। उन्होंने इस मौके पर किसान मंच समिति के सभी पदाधिकारी एवं किसान भाईयों को छेरछेरा पर्व और शाकम्भरी जयंती की बधाई और शुभकामनाएं दी थी। मंत्री श्री अकबर को इस मौके पर किसान मंच समिति के पदाधिकारियों एवं सदस्यों ने नवा रायपुर में पुनर्वास एवं पुनर्व्यवस्थापन की मांगों के संबंध में ज्ञापन सौंपा था। मंत्री श्री अकबर ने किसान भाईयों की मांगों के संबंध में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल एवं नवा रायपुर विकास प्राधिकरण के अधिकारियों से चर्चा कर उनकी मांगों का यथोचित समाधान किए जाने का भरोसा दिलाया था।

अपने मोबाइल पर REAL TIMES का APP डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें
advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button