State

तय सीमा में धान खरीदी के आदेश से हड़कंप, सोसायटियों ने शुरू की तिथि ‌‌‌बढ़ाने की‌ मांग

रायपुर(realtimes) शासन द्वारा धान खरीदी हेतु निर्धारित 31 जनवरी तक आवश्यक व्यवस्था कर धान खरीदी का कार्य पूरा करने संबंधी उपपंजीयक , रायपुर के आदेश से सोसायटियों में हड़कंप मच गया है । जमीनी हकीकत को देखते हुये इस तिथि तक किसी भी हालत में धान खरीदी पूरा न हो पाने की‌ स्थिति को देखते हुये सोसायटियों ने खरीदी तिथि बढ़ाने की मांग शुरू कर दी है ।

उपपंजीयक द्वारा बीते 14 जनवरी को सोसायटियों के‌ अध्यक्ष , प्राधिकृत अधिकारी व समिति प्रबंधकों के नाम एक आदेश जारी कर कार्ययोजना बना 31 जनवरी तक पंजीकृत किसानों से शेष बचे धान को खरीदने का फरमान जारी कर दिया है । आदेश में कहा गया है कि धान खरीदी हेतु महज 9 दिन का समय बाकी है और जिन धान खरीदी केन्द्रों में गत दिवस तक 60 प्रतिशत धान खरीदी की गयी है तथा औसत से कम है उन्हें विशेष रूप से निर्देशित किया जाता है कि समिति में पंजीकृत रकबे के आधार पर शेष खरीदी के मात्रा का आंकलन कर निर्देशित कार्ययोजना बना खरीदी पूरा करे । जारी निर्देश के अनुसार केन्द्रों को शेष खरीदी दिवस के आधार पर औसत निर्धारित कर उसके अनुसार तौल हेतु कांटा बांट , हमालो की व्यवस्था के‌ साथ – साथ खरीदी तिथि पर ही सिलाई तथा डनेज के साथ स्टेकिंग की भी व्यवस्था सोसायटियों को करना है । इधर कई धान उपार्जन केन्द्रों का दौरा करने के बाद किसान संघर्ष समिति के संयोजक भूपेन्द्र शर्मा ने बतलाया कि बारिश के चलते ठप्प हुआ खरीदी का कार्य फड़ के सूखने पर शुरू हो पाना‌ ही संभव है और खासकर कन्हार भूमि पर बने फड़ का । कई केन्द्रों में कल 18 जनवरी से खरीदी पुनः प्रारंभ होने की संभावना व्यक्त करते हुये उन्होंने कहा है पूर्व में केन्द्रों द्वारा अपनी व्यवस्था व क्षमता के अनुसार धान खरीदी किये जाने पर शासन ने‌ ही निर्धारित सीमा से अधिक धान न खरीदने अथवा कार्यवाही की चेतावनी दी थी और अब कम धान खरीदी पर प्रश्नचिन्ह लगा रहा है । निर्धारित समयसीमा में किसी भी हालत में धान खरीदी संभव न हो पाने की बात पुनः दोहराते हुये उन्होंने कहा है कि जब मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने धान खरीदी के मसले पर किसानों को चिंतित नहीं होने का आश्वासन दिया है तो‌ फिर किसानों व सोसायटियों के कर्मियों के बीच तनातनी होने के‌ पहले ही अविलंब तिथि बढ़ाने को घोषणा शासन को कर देना चाहिये । उन्होंने आगे जानकारी दी है कि जमीनी हकीकत को देखते हुये निर्धारित समय पर धान खरीदी किसी भी हालत में संभव न होने व तिथि में बढ़ोतरी न होने पर किसानों व‌ समिति कर्मियों के मध्य तनाव बढ़ने की आंशका को ले की सोसायटियों ने अपने शाखा प्रबंधकों के माध्यम से जिला केन्द्रीय सहकारी बैंक रायपुर के मुख्य कार्यपालन अधिकारी को ज्ञापन भेज इस ओर ध्यानाकृष्ट कराते हुये समयसीमा में बढ़ोतरी हेतु शासन से आग्रह करने का अनुरोध किया है । भलेरा , भिलाई , देवरी , खमतराई , जरौद , फरफौद , भानसोज , लखौली , गोविंदा आदि सोसायटियों द्वारा इस ओर ध्यानाकर्षण कराये जाने की जानकारी मिलने की बात उन्होंने कही है।

अपने मोबाइल पर REAL TIMES का APP डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें
advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button