national

अलवर में दिव्यांग बच्ची दुष्कर्म मामले में भाजपा ने प्रियंका गांधी का किया घेराव

नई दिल्ली: भारतीय जनता पार्टी ने राजस्थान के अलवर में दिव्यांग बच्ची के साथ हुए दुष्कर्म मामले में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी पर निशाना साधते हुए आरोप लगाया है कि इस जघन्य घटना के दौरान श्रीमती गांधी राजस्थान में ही अपना जन्मदिन मना रही थीं लेकिन उनके पास पीड़िता का दर्द बांटने का समय नहीं था। भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने शुक्रवार को यहां एक संवाददाता सम्मेलन में कहा,“एक 15-16 वर्ष की नाबालिग दिव्यांग लकड़ी के साथ कांग्रेस शासित राज्य के अलवर में दुष्कर्म हुआ। एक गाड़ी खून से लथपथ उस लड़की को सड़क पर फेंककर जाती है। आज वह मासूम बेटी अस्पताल में अपने जीवन से लड़ रही है। जब अलवर में ये घटना हो रही थी, तब श्रीमती गांधी अलवर के बेहद नजदीक रणथम्भोर में अपना जन्मदिन मना रही थीं।”

उन्होंने कहा कि गैर कांग्रेस शासित राज्यों में आपराधिक घटनाओ को लेकर श्रीमती गांधी और उनके भाई कांग्रेस सांसद राहुल गांधी राजनीतिक रोटियां सेंकने और पीड़ितों के साथ फोटो खिंचवाने तुरंत पहुंच जाते हैं लेकिन कांग्रेस के राज में ऐसी क्रूरतम और जघन्य दुष्कर्म की घटना को लेकर खामोश हो जाते हैं। पात्रा ने कहा,“भाजपा सांसदों और नेताओं के एक प्रतिनिधिमंडल ने पीड़ित बच्ची को न्याय दिलाने की अपील लेकर श्रीमती गांधी से रणथम्बोर में मिलने का समय मांगा लेकिन उन्होंने समय नहीं दिया गया। श्रीमती गांधी ने अपनी ही पार्टी की अशोक गहलोत सरकार से इस मामले में कार्रवाई सुनिश्चित करने के लिए कोई बातचीत नहीं की।”

उन्होंने कहा कि श्रीमती गांधी उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव में ‘लड़की हूं, लड़ सकती हूं’ का नारा देती हैं लेकिन कांग्रेस शासित राज्य में लड़कियों की आवाज को दबा दिया जाता है। उनकी पीड़ा को नहीं सुना जाता। गौरतलब है कि मंगलवार को अलवर में एक मूक बधिर नाबालिग लड़की के साथ दिल्ली की ‘निर्भया’ की तरह दरिंदगी हुई। सामूहिक दुष्कर्म के बाद उसे ‘ओवरब्रीज’ से नीचे फेंक दिया गया। बच्ची की जान बचाने के लिए चिकित्सकों ने उसे अलवर से जयपुर रेफर किया जहां बुधवार को उसकी सर्जरी की गई।

अपने मोबाइल पर REAL TIMES का APP डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें
advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button