national

शशि थरूर ने ट्विटर पर की गलती, फिर किया सुधार

नई दिल्ली(realtimes) केरल के तिरुवनंतपुरम से लोकसभा सांसद और पूर्व केंद्रीय मंत्री शशि थरूर ट्टविटर पर खासे सक्रिय रहते हैं। उनके किए गए ट्वीट अक्सर विवादों में भी आते हैं और सुर्खियां भी बनते हैं। कुछ ऐसा ही इस बार भी हुआ है लेकिन इस बार उनसे एक गलती हो गई।

शशि थरूर ने पूर्व प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू और इंदिरा गांधी की एक तस्वीर ट्विटर पर पोस्ट की। इस तस्वीर में नेहरू और इंदिरा खुली कार में हैं और उनके चारों और भारी भीड़ है। इस फोटो को पोस्ट करने के पीछे थरूर का मकसद अमेरिका के ह्यूस्टन में हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ‘हाउडी मोदी’ कार्यक्रम से तुलना करना था। लेकिन ऐसा करना उन्हें भारी पड़ गया। उन्होंने इस तस्वीर को लेकर गलत जानकारी दे दी। हालांकि बाद में उन्होंने इसे स्वीकार कर लिया, लेकिन उनका कहना था कि इससे संदेश नहीं बदला।

शशि थरूर नेहरू और इंदिरा गांधी की एक फोटो शेयर करते हुए लिखा, ‘1954 में अमेरिका में नेहरू और इंदिरा गांधी। यह उत्साह से भरे लोगों अमेरिकी लोगो के सैलाब पर नजर डालें। यह सब बिना पीआर कैंपेन, एनआरआई भीड़ प्रबंधन, और भारी भरी करम मीडिया प्रचार के बिना। ‘ थरूर बताना चाह रहे थे कि विदेशों में भारतीय प्रधानमंत्री की लोकप्रयिता कोई नई चीज नहीं है।

लेकिन इस तस्वीर को शेयर करने के बाद कई लोगों ने कमेंट में कहा कि यह तस्वीर न तो 1954 की है और न ही रूस की। @IndiaHistorypic ने लिखा कि यह तस्वीर 1956 की है और रूस की राजधानी मॉस्को की है।

कुछ समय के बाद थरूर को अपनी गलती का अहसास हुआ। शशि थरूर ने ट्वीट कर इस मसले पर सफाई भी दी।

शशि थरूर ने ट्वीट किया, मुझे बताया गया है कि यह तस्वीर अमेरिका की नहीं रूस की है। अगर ऐसा है भी तभी यह बात गलत साबित नहीं होती कि पूर्व प्रधानमंत्रियों को विदेशों में लोप्रियता हासिल थी। जब नरेंद्र मोदी को सम्मानित किया जाता है तो भारतीय प्रधानमंत्री को सम्मानित किया जाता है, यह सम्मान भारत के लिए है।’

अपने मोबाइल पर REAL TIMES का APP डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
COVID-19 LIVE