national

चीन ताइवान के रास्ते जंगी जहाज भेजने से अमेरिका-कनाडा पर बौखलाया, हाई अलर्ट पर सेना

चीन-ताइवान के बीच लगातार बढ़ते तनाव के बीच चीन की सेना ने पिछले सप्ताह ताइवानी खाड़ी के रास्ते अमेरिका और कनाडा द्वारा जंगी जहाज भेजने की निंदा की है। उसने बौखलाहट निकालते हुए कहा कि दोनों देशों की इन उत्तेजक कार्रवाइयों ने क्षेत्रीय शांति और स्थिरता को गंभीर रूप से खतरे में डाल दिया है।

चीन इस क्षेत्र पर अपना दावा करता है, जहां से गुजरने के लिए वह चीनी मंजूरी जरूरी मानता है। ताइवान स्ट्रेट 180 किलोमीटर चौड़ी खाड़ी है जो ताइवान और महाद्वीपीय एशिया के द्वीप को अलग करती है। यहां चीन और ताइवान की नौसेना और तटरक्षक जहाज दोनों गश्त करते हैं। अमेरिकी नौसैन्य डिस्ट्रायर यूएसएस डेवी (डीडीजी-105) और रॉयल कनाडाई नेवी फ्रिगेट एचएमसीएस विन्निपेग 15 अक्तूबर को ताइवान स्ट्रेट के रास्ते से रवाना हुए थे।

चीनी पीएलए ईस्टर्न थिएटर कमांड के प्रवक्ता ने कहा, हमने पूरे मामले में दो युद्धपोतों को ट्रैक और मॉनिटर करने के लिए अपनी नौसेना और वायुसेना को भेजा है। सीनियर कर्नल शी यी ने जोर देकर कहा कि ताइवान चीन का हिस्सा है। उन्होंने बताया कि हम हर समय हाई अलर्ट पर हैं और सभी खतरों और उकसावे का मुकाबला करने के लिए तैयार हैं।

अपने मोबाइल पर REAL TIMES का APP डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button