State

कार्यकारिणी की बैठक में पुनिया ने दिया सत्ता और संगठन के तालमेल पर जोर

पुनिया, भूपेश चंदन सहित  मरकाम हुये शामिल

रायपुर(realtimes) आज प्रदेश कांग्रेस कमेटी की कार्यकारिणी की बैठक प्रभारी पी.एल. पुनिया, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, प्रभारी सचिव चंदन यादव, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम की उपस्थिति में संपन्न हुई। बैठक में आजादी की हीरक जयंती 75वें वर्ष में अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के निर्देश पर राज्य में एक वर्ष तक मनाये जाने वाले कार्यक्रमों पर चर्चा हुई, बूथ कमेटियों के गठन पर चर्चा हुई, जिला प्रभारियों से उनके प्रभार जिले के कार्यक्रमों की समीक्षा तथा अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के निर्देश पर जिलों में आयोजित किये गये कार्यक्रमों की समीक्षा, जिलों में बन रहे राजीव भवनों की प्रगति समीक्षा भी हुई। साथ ही राज्य सरकार के कामों की जिलों में संगठन के द्वारा किये जा रहे प्रचार-प्रसार पर भी चर्चा हुई।

बैठक में प्रदेश प्रभारी पी.एल. पुनिया ने सभी पदाधिकारियों से उनके प्रभार जिलों के कार्यक्रमों और कार्यकर्ताओं की समस्याओं के संबंध में जानकारी लिया तथा सत्ता और संगठन के तालमेल पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि प्रभारी मंत्री जब भी जिलों में जाये, जिला कांग्रेस कार्यालय जरूर जायें तथा कार्यकर्ताओं से मिले यह सुनिश्चित हो। प्रभारी अपने प्रभार जिलों में महीने में 15 दिन दौरा करें। सरकार के कामकाज निर्णय का प्रचार होना चाहिये। उन्होंने कहा कि संगठन के पुराने पदाधिकारियों की सहभागिता भी सुनिश्चित की जाये। निकाय और पंचायत के निर्वाचित पदाधिकारियों की संगठन में भागीदारी की समीक्षा हो ।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने नवनियुक्त पदाधिकारियों को उनकी नई जिम्मेदारी के लिये बधाई देते हुये नवरात्रि की शुभकामनाएं दिया तथा कहा कि सबका अपनी जवाबदारी का पूरी मेहनत से पालन करना है।

प्रभारी सचिव चंदन यादव ने कहा कि कामों का विकेंद्रीकरण अधिक से अधिक लोगों को संगठन की जवाबदारी से जोड़ा जाये। उन्होंने कहा कि अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के कार्यक्रम के साथ स्थानीय कार्यक्रम तय कर किये जाने चाहिये। हमारे सरकार के कामों की जवाबदारी जनता तक पहुंचे यह संगठन सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि संगठन के तीन महत्वपूर्ण काम है रचनात्मक, संगठन विस्तार, प्रशिक्षण हमें तीनों दिशा में काम करना है। उन्होंने मिशन 2023 के लिये जुटने की बात कही।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कहा कि सभी ने महत्वपूर्ण सुझाव दिया है। इन सुझावों पर अमल और निराकरण प्रदेश प्रभारी पी.एल. पुनिया और मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के साथ मिलकर किया जायेगा। जिनको जो टारगेट दिया गया है सभी को उसे पूरा करना है। बूथ कमेटियों का गठन दिसंबर तक आवश्यक रूप से कर लिया जाना चाहिये। ताकि जनवरी से प्रशिक्षण काम शुरू किया जा सके।

आज की बैठक में मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया, प्रदेश कांग्रेस के कोषाध्यक्ष रामगोपाल अग्रवाल, प्रदेश कांग्रेस उपाध्यक्ष गण गुरूमुख सिंह होरा, प्रतिमा चंद्राकर, वाणी राव, अरुण सिंघानिया, अंबिका मरकाम, चुन्नीलाल साहू, पी.आर. खुंटे, प्रेमचंद जायसी, बीरेश ठाकुर, जे.पी. श्रीवास्तव, सदस्य प्रदेश बूथ प्रबंधन समिति गिरीश देवांगन, प्रभारी महामंत्री संगठन चंद्रशेखर शुक्ला, प्रदेश कांग्रेस प्रभारी महामंत्री प्रशासन रवि घोष, प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग अध्यक्ष सुशील आनंद शुक्ला, महामंत्री गण कन्हैया अग्रवाल, डॉ. थानेश्वर पटिला, रंजीत कोसरिया, अमरजीत चावला, राजेन्द्र साहू, फूलकेरिया भगत, सुमित्रा धृतलहरे, जितेन्द्र साहू, अर्जुन तिवारी, गोपाल थवाईत, द्वितेन्द्र मिश्रा, सीमा वर्मा, शाहिद खान, रजनू नेताम, पीयूष कोसरे, प्रदेश कांग्रेस कार्यसमिति सदस्य गण शकुन डहरिया, सुरेन्द्र जयसवाल, विष्णु यादव उपस्थित थे।

अपने मोबाइल पर REAL TIMES का APP डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
COVID-19 LIVE