State

पंडो जाति के 22 परिवारों के घर तोड़ने की उच्चस्तीय जांच हो-रेणुका सिंह

रायपुर(realtimes) केंद्रीय राज्यमंत्री रेणुका सिंह ने सरगुजा संभाग के बलरामपुर के बैकुंठपुर गांव में वन विभाग के अधिकारियों व कर्मचारियों द्वारा राष्ट्रपति के दत्तक पुत्र व विशेष संरक्षित पंडो जनजाति के 22 लोगों के मकान को तोड़फोड़ कर ध्वस्त किए जाने की घटना पर गहरा आक्रोश व्यक्त किया है। उन्होंने इस पूरे मामले की उच्चस्तरीय जांच कर सभी दोषियों पर कठोर दंडात्मक कार्रवाई की मांग की है।

उनका कहना है, यह घटना प्रदेश सरकार के उन तमाम दावों पर करारा तमाचा है, जिनकी दुहाई दे-देकर प्रदेश सरकार आदिवासियों की हितरक्षक होने और छत्तीसगढ़ को भ्रष्टाचारमुक्त बनाने की बात करती है। प्रदेश में जबसे कांग्रेस ने सत्ता संभाली है, प्रदेश के अमनपसंद गरीब आदिवासियों का जीना तो दुभर हुआ ही है, प्रदेश सरकार के दबाव में अधिकारी-कर्मचारी भोले-भाले आदिवासियों तक को नहीं बख्श रहे हैं।

श्रीमती सिंह ने कहा, पिछले चार माह के दौरान इस विशेष संरक्षित पंडो जनजाति के आदिवासी जिस तरह आपदाओं से जूझ रहे हैं, उससे साफ है कि प्रदेश सरकार और उसकी प्रशासनिक मशीनरी की संवेदनाओं को काठ मार गया है। श्रीमती सिंह ने कहा कि अशिक्षा, बेहतर स्वास्थ्य सुविधाओं के अभाव और आर्थिक बदहाली से जूझते पंडो जनजाति के 23 लोगों की मौत के बाद भी प्रदेश सरकार के कानों पर जूँ तक नहीं रेंग रही है। रोज दो जून की रोटी के लिए संघर्ष करते इन आदिवासियों से घूस वसूलते अपने नुमाइंदों की करतूत पर प्रदेश सरकार को आखिर कब शर्म महसूस होगी।

केंद्रीय राज्यमंत्री श्रीमती सिंह ने कहा, एक ओर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल आदिवासियों को वनभूमि का पट्टा देने का सियासी ढोल पीट रहे हैं, लेकिन जमीनी सच इन दावों की पोल खोल रहे हैं। 20 सालों से वनभूमि पर काबिज पंडो जनजाति के लोगों के साथ वन विभाग के नुमाइंदे कितनी निर्दयता से पेश आ रहे हैं, बैकुंठपुर गांव की यह घटना इसका जीता-जागता नमूना है। इन आदिवासियों को उक्त भूमि पर काबिज रहने देने के लिए सालों से वन विभाग के नुमाइंदे बतौर रिश्वत बकरा-मुर्गा लेकर अपना गर्हित आचरण प्रदर्शित करते रहे हैं।

अपने मोबाइल पर REAL TIMES का APP डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
COVID-19 LIVE