VideoViral

लाल रंग की भिंडी की खेती करके किसानों को हो रहा है फायदा, स्वास्थ्य के लिए लाभदायक है यह सब्ज़ी

कैसे भिंडी हरी से लाल हो गई?

भिंडी (Ladyfinger) बहुत ही स्वादिष्ट सब्ज़ी (Tasty Vegetables) होती है. स्वास्थ्य के लिए ये सब्ज़ी बहुत ही लाभदायक (Useful) होती है. देखा जाए तो ये सब्ज़ी सप्ताह में दो दिन हमारे घर में बन जाती है. ये सब तो हम जानते ही हैं कि भिंडी हरे रंग की होती हो, मगर आज मैं आपको लाल रंग की भिंडी के बारे में बताने जा रहा हूं. ये भिंडी हरे रंग की भिंडी से रंग में भले ही अलग है, मगर पौष्टिक बहुत ही ज़्यादा है. किसान इसे अपने खेतों में उपजा कर बहुत ज़्यादा लाभ ले रहे हैं. अभी हाल ही में समाचार एजेंसी एएनआई ने इसकी जानकारी ट्विटर के ज़रिए दी.

यह भी पढ़ें

ट्विटर देखिए 

ANI की रिपोर्ट के अनुसार, मध्य प्रदेश के मिसरीलाल राजपूत ने लाल भिंडी उगाई है. उनका कहना है कि लाल भिंडी की मांग बहुत ज्यादा है. मॉल में ये भिंडी 300-400 रुपये किलो बिक रही है.

लाल रंग की इस भिंडी का नाम काशी लालिमा है. ये भिंडी हरे रंग की भिंडी से बहुत ज़्यादा पौष्टिक होती है. जानकारी के लिए बता दूं कि इस भिंडी की खोज दो साल पहले  इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ़ वेजिटेबल रिसर्च (Indian Institute of Vegetable Research, IIVR) ने की थी. ये संस्था उत्तर प्रदेश के वाराणसी में स्थित है. इसे विकसित करने के लिए कृषि वैज्ञानिकों को 8-10 साल लगे.

वैज्ञानिकों के अनुसार, लाल भिंडी, हरी भिंडी से ज़्यादा पौष्टिक होती है. इसमें ऐंटिऑक्सिडेंट्स, कैल्शियम और आयरन की अधिक मात्रा होती है. ये स्वाद में बेहतरीन होने के साथ-साथ स्वास्थ्य के लिए भी लाभदायक है. आज उत्तर प्रदेश, गुजरात, छत्तीसगढ समेत कई राज्यों के किसान लाल भिंडी की खेती कर रहे हैं.

अपने मोबाइल पर REAL TIMES का APP डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button