national

Judge Uttam Anand death case में सीबीआई को मिले अहम सबूत

रांची: न्यायाधीश उत्तम आनंद मौत मामलेकी जांच कर रही सीबीआई (CBI) को कई नये तथ्य मिले हैं. आरोपी लखन एवं राहुल वर्मा ने घटना को अंजाम देने से पूर्व रात में ही उसने रेलवे कांट्रेक्टर पूर्णेन्दु विश्वकर्मा के घर से तीन मोबाइल चोरी की और चोरी किए गए तीनों मोबाइल से वह लगातार बात भी कर रहे थे. यह अलग बात है कि उन्होंने चोरी के मोबाइल में अपना सिम इस्तेमाल  किया.ये तमाम जानकारी आरोपियों ने सीबीआई को दिल्ली में पूछताछ के दौरान दी. जिसके बाद धनबाद पुलिस रेस हो गयी है.

जजों की सुरक्षा के लिए कदम उठाए केंद्र, सिर्फ राज्यों के भरोसे नहीं छोड़े : सुप्रीम कोर्ट

वहीं, मोबाइल चोरी की घटना की शिकायत पूर्णेन्दु ने स्थानीय धनबाद थाने में की लेकिन थाने के मुंशी कांस्टेबल विजय यादव ने इसकी जानकारी अपने वरीय अधिकारियों को नहीं दी. जिसके बाद कर्तव्य में लापरवाही बरतने के आरोप में एसएसपी ने कांस्टेबल विजय यादव को सस्पेंड कर दिया.

बता दें कि मोबाइल CDR जांच के दौरान सीबीआई ने पाया कि आरोपियों में जिस सिम कार्ड का इस्तेमाल किया है उनके EMEI नम्बर अलग-अलग है और जब कड़ाई से पूछताछ की गई तब आरोपियों ने बताया कि ऑटो चोरी करने के बाद दोनों ने धनबाद रेलवे स्टेशन के निकट बैठकर शराब एवं अन्य तरह का नशा किया और बाद में मौका पाकर रेलवे ट्रेक्टर के घर जाकर तीनों मोबाइल चोरी कर ली.

सीबीआई धनबाद के जज उत्तम आनंद की हत्या में ठोस सुराग देने वाले को 5 लाख रुपये का इनाम देगी

बता दें कि फिलहाल सीबीआई दोनों आरोपियों को दिल्ली लेकर गई हुई है और वहां पर उनका ब्रेन मैपिंग और नार्को टेस्ट कराया जा रहा है. वहां भी सीबीआई को आरोपियों से कई अहम जानकारी मिली है लेकिन सीबीआई फिलहाल अनुसंधान प्रभावित होने का हवाला देकर कुछ भी कहने से इंकार कर रही है.

अपने मोबाइल पर REAL TIMES का APP डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
COVID-19 LIVE