Bollywood

फिल्म इंडस्ट्री के दस्तूर पर झलका कृति सेनन का दर्द, ‘मिमी’ ने कह दी ये बात

कृति सेनन इन दिनों में हाल में आई अपनी फिल्म ‘मिमी’ की सक्सेस को एन्जॉय कर रही हैं. फिल्म कृति को एक सेरोगेट मदर के रूप में दिखाई दी हैं. फिल्म सरोगेसी के बारे में बात करती है और कृति सेनन ने फिल्म में अपनी दमदार परफॉर्मेंस से ऑडियंस और क्रिटिक्स का दिल जीत लिया है.

कृति सेनन ने ईटाइम्स से खास बातचीत की. कृति से फीस में असमानता के बारे में पूछा गया क्योंकि एक्टर को एक्ट्रेस के मुकाबवे ज्यादा पैमेंट दिया जाता है. इस पर कृति,”हां, जब मैं लीड रोल में हूं या सारे कैरेक्टर मेरे आसपास घूमते हैं, तो मेरे ऊपर ज्यादा से ज्यादा प्रोड्यूसर निर्माता होंगे, जो मुझ पर फिल्म बैंकिंग का विश्वास महसूस करेंगे.”

पुरुष कलाकार को कम साबित करना पड़ता है

कृति ने आगे कहा,”मुझे लगता है कि यह एक सर्कल है, ये फीस में असमानता को भी लाएगा. मुझे लगता है, जीवन में इस तरह आप बढ़ते हैं. केवल एक चीज जो मैंने प्वाइंट की थी, वह यह है कि जब एक फिल्म में पुरुष और एक महिला कलाकार की समान भूमिका होती है, तो मुझे ऐसा लगता है कि फिल्म हिट करने या सक्सेस दिलाने की जिम्मेदारी अकेले उन्हें साबित करने की जरूरत नहीं होती है.”

महिला एक्ट्रेस को ज्यादा साबित करना पड़ता है

कृति सेनन आगे कहा,”और कहीं न कहीं महिलाओं को, कभी-कभी इस तरह की फिल्मों से उन्हें और ज्यादा साबित करना पड़ता है, जो मुझे लगा कि यह एक बहुत ही अजीब अंतर है. लेकिन मुझे लगता है कि हम धीरे-धीरे बढ़ रहे हैं और चीजें बदल रही हैं. पितृसत्तात्मक मानसिकता इतनी सामान्य है कि इसे बदलने और बढ़ने में थोड़ा समय लगेगा.”

अपने मोबाइल पर REAL TIMES का APP डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
COVID-19 LIVE