national

देश के जाने माने कवि कुंवर बेचैन का कोरोना से निधन, कुमार विश्वास का भावुक ट्वीट- मेरे मन का एक कोना मार दिया..!

इंटरनेट डेस्क। कोरोना वायरस देश से एक के बाद एक बड़ी हस्तियों को छीन रहा है। आज गुरुवार को  देश के जाने माने कवि कुंवर बेचैन का कोरोना से निधन हो गया है। उनका नोएडा के कैलाश अस्पताल में इलाज चल रहा था जहां आज उन्होंने अंतिम सांस ली। उनके निधन की सूचना कवि डॉ. कुमार विश्वास ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट करके दी।

 

कोरोना से चल रहे युद्धक्षेत्र में भीषण दुःखद समाचार मिला है।मेरे कक्षा-गुरु,मेरे शोध आचार्य,मेरे चाचाजी,हिंदी गीत के राजकुमार,अनगिनत शिष्यों के जीवन में प्रकाश भरने वाले डॉ कुँअर बेचैन ने अभी कुछ मिनट पहले ईश्वर के सुरलोक की ओर प्रस्थान किया।कोरोना ने मेरे मन का एक कोना मार दिया pic.twitter.com/r4wOFsthHL
— Dr Kumar Vishvas (@DrKumarVishwas) April 29, 2021

देश के जाने माने कवि और लेखकर कुमार विश्वास ने अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा कि कोरोना से चल रहे युद्धक्षेत्र में भीषण दुखद समाचार मिला है। हिंदी गीत के राजकुमार, अनगिनत शिष्यों के जीवन में प्रकाश भरने वाले डॉ कुंअर बेचैन ईश्वर के सुरलोक की ओर प्रस्थान कर गए हैं। 
 

अरे मेरे राम हे ईश्वर।बस भी कर  https://t.co/SeaDFCkde0
— Dr Kumar Vishvas (@DrKumarVishwas) April 29, 2021

वहीं एक अन्य ट्वीट में उन्होंने लिखा कि कोरोना से चल रहे युद्धक्षेत्र में भीषण दुःखद समाचार मिला है। मेरे कक्षा-गुरु, मेरे शोध आचार्य, मेरे चाचाजी, हिंदी गीत के राजकुमार, अनगिनत शिष्यों के जीवन में प्रकाश भरने वाले डॉ कुंअर बेचैन ने अभी कुछ मिनट पहले ईश्वर के सुरलोक की ओर प्रस्थान किया। कोरोना ने मेरे मन का एक कोना मार दिया।  
गौरतलब है कि कुंअर बेचैन यूपी के मुरादाबाद जिले के उमरी गांव के रहने वाले थे। उनकी पढ़ाई चंदौसी के एसएम कॉलेज में हुई थी। कुंअर बेचैन ने कई गीत, गजल और उपन्‍यास लिखे थे। उनका पूरा नाम था डॉ कुंअर बहादुर सक्‍सेना, लेकिन वह ‘बेचैन’ उपनाम से रचनाएं लिखते थे।

अपने मोबाइल पर REAL TIMES का APP डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें
advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button