City

दुर्ग में पॉजिटिव मरीजों को कहीं भी भटकना ना पड़े, वोरा ने दिए निर्देश

कोविड संक्रमण को लेकर विधायक ने ली स्वास्थ्य विभाग की बैठक

दुर्ग(realtimes) लगातार बढ़ रहे कोरोना संक्रमण के कारण जिले में 9 दिन के लिए लगाए गए सख्त लॉक डाउन के पहले दिन विधायक अरुण वोरा ने सीएमएचओ डॉ गंभीर सिंह ठाकुर एव स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ कोविड संक्रमण की वर्तमान वस्तुस्थिति की समीक्षा की।

उन्होंने अधिकारियों से कहा कि लगातार कोविड पॉजिटिव मरीजों के परिजनों द्वारा अव्यवस्था की शिकायतें की जा रही है। भर्ती मरीजों की खोज खबर लेने की सुविधा नहीं है होम आइसोलेशन में रह रहे लोगों ने हेल्प लाइन नंबर नहीं उठाए जाने की शिकायत की है। जिले में कोरोना का संक्रमण अधिक है किंतु आम जनता के भटकाव की स्थिति नहीं होनी चाहिए। अधिक से अधिक आक्सीजन बेड, आईसीयू बेड एवं टेस्टिंग किट की व्यवस्था की जाए। आरटीपीसीआर टेस्ट की रिपोर्ट आने में देरी से मरीजों की स्थिति बिगड़ रही है ज्यादा से ज्यादा रैपिड टेस्ट कराया जाए एवं लक्षण दिखते ही पॉजिटिव मान कर तत्काल उपचार शुरू किया जाए।

महापौर धीरज बाकलीवाल ने आइसोलेशन बेड बढ़ाने एवं जिला चिकित्सालय को आइसोलेशन सेंटर के रूप में परिवर्तित करने का सुझाव दिया। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने बताया कि 1 से 5 अप्रैल तक जिले में 18246 सैम्पल लिए गए थे जिसमें से 4981 की रिपोर्ट पॉजिटिव है और 2500 लोगों की रिपोर्ट आनी बाकी है। वर्तमान में निजी अस्पतालों में 252 आक्सीजन बेड, 217 आईसीयू सहित कुल 512 बिस्तर कोविड इलाज हेतु उपलब्ध हैं। इसके अलावा शासकीय जिला अस्पताल, शंकराचार्य एवं कचंदुर मेडिकल कालेज में कोविड केअर सेंटरों में बिस्तरों की संख्या में वृद्धि की जा रही है।

इस दौरान सिविल सर्जन पी बालकिशोर, डॉ अर्चना चौहान, पीयूली मजूमदार, सी बी एस बंजारे एल्डरमैन अंशुल पांडेय,सुमित वोरा, संदीप वोरा, आयुष शर्मा, गौरव उमरे मौजूद थे। विधायक वोरा ने लॉक डाउन की स्थिति का जायजा लेने शहर का दौरा किया एवं इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के माध्यम से लोगों से घरों में रहने की अपील की।

अपने मोबाइल पर REAL TIMES का APP डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button