State

किसानों के बीच भ्रम फैला रही कांग्रेस : डॉ. रमन

भाजपा किसान मोर्चा की प्रदेश कार्यसमिति की बैठक

रायपुर(realtimes) भारतीय जनता पार्टी किसान मोर्चा की प्रदेश कार्यसमिति की बैठक आज भाजपा कार्यालय एकात्म परिसर में सम्पन्न हुआ।

प्रदेश कार्यसमिति बैठक को संबोधित करते हुए भाजपा राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने किसान मोर्चा की भूमिका पर चर्चा  करते हुए  कहा कि कृषि का क्षेत्र व्यापक है किसानों में जाति व वर्ण का भेद नहीं होता। महिलाएं भी यहां कृषि क्षेत्र में अग्रणी भूमिका निभा रही हैं। किसान वर्तमान में आधुनिक खेती कर आत्मनिर्भरता की ओर बढ़ रहा है। कांग्रेस सरकार किसानों के बीच भ्रम फैलाकर सरकार बनाया है। किसानों का समस्याओं का निराकरण नहीं हो रहा है। लघु व सीमांत किसानों पर अधिक संकट आ गया है। केन्द्र के आयुष्मान स्वास्थ्य योजना को भूपेश सरकार ने बंद कर दिया जिससे किसान भी इस योजना का लाभ से वंचित हैं। कांग्रेस सरकार के सिंचाई व्यवस्था पूरी तरह से फैल है वर्तमान में किसानों को पंप कनेक्शन देने में सरकार अक्षम है, 38 प्रतिशत पंप कनेक्शन लंबित है। उन्होंने कहा कि केन्द्र के नये कृषि कानून को किसानों के लिए क्रांतिकारी व हितकारी बताया। विपक्षी पार्टी किसानों के बीच भ्रम फैलाकर गुमराह करने का प्रयास कर रही है।

राज्य सभा सांसद सुश्री सरोज पाण्डेय ने कार्यसमिति को संबोधित करते हुए कहा कि केन्द्र की सरकार किसानों के आय को दुगुना करने के लिए दृढ़ संकल्पित है। इस दिशा में देश में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में महत्वपूर्ण कार्य हो रहे है। उन्होंने कहा कि प्रदेश की कांग्रेस सरकार केवल भ्रम फैलाकर किसानों को भ्रमित कर सत्ता में आयी है लेकिन किसानों के हित में यह सरकार कुछ भी नहीं कर रही है। किसान विरोधी इस सरकार को करारा जवाब देने की जरूरत है। सांसद सुश्री सरोज पाण्डेय ने कहा कि किसान मोर्चा प्रदेश में और मजबूती के साथ काम करे इसके लिए और भी कार्ययोजना बनाने की जरूरत हैं।

विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने कहा कि प्रदेश में कांग्रेस की सरकार जिस विश्वास के साथ सत्ता में आयी थी उसमें किसानों ने अपना अमूल्य योगदान दिया था लेकिन यह सरकार किसानों की अहितकारी सरकार है। जिन किसानों ने सत्ता में कांग्रेस को लाया है वही किसान कांग्रेस को सत्ता से बेदखल करेंगे। नेता प्रतिपक्ष कौशिक ने कहा कि कांग्रेस सरकार किसानों को छल रही है। हमें केन्द्र के किसान बिल को किसानों व जनता के बीच ले जाने की जरूरत है। हमारी लड़ाई सडक़ से सदन तक मजबूत होनी है और किसान मोर्चा का प्रत्येक कार्यकर्ता इस दिशा में और भी मजबूती से कार्य करेंगे। नेता प्रतिपक्ष कौशिक ने किसानों के हित में और अधिक सार्थक संवाद स्थापित करने की अपील की।

पूर्व कृषि मंत्री व वरिष्ठ विधायक बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि जब प्रदेश में भाजपा सरकार थी तो प्रदेश के किसानों के लिए अनेक योजनाएं चला रही थी। किसानों को कृषि कार्य के लिए हमेशा पानी की जरूरत होती थी जिसे देखते हुए पूर्ववर्ती भाजपा सरकार ने उन्हें सोलर पंप उपलब्ध कराया था। लेकिन जब से प्रदेश में कांग्रेस सत्ता में आयी है तब से प्रदेश में चल रही सभी योजनाओं को बंद दिया। उन्होंने कहा कि प्रदेेश में लगभग 90 प्रतिशत लोग कृषि से जुड़े हुए है। प्रदेश के किसान आज इतने परेशान है कि अपनी उपज का धान बेचने के लिए वे भटक रहे है। प्रदेश सरकार किसानों को कभी रकबा में कटौती तो कभी बारदाने की कमी के बहाने परेशान करते रहे। पहले की किसान एक महीने देरी से धान खरीदने के प्रदेश कांग्रेस सरकार के फैसले से परेशान थे। उन्होंने कहा कि कांग्रेस राजीव गांधी न्याय योजना के साथ भी अन्याय कर रही है। बीते वर्ष के धान के राशि भुगतान किश्तों में कर रही है और अंतिम किश्त का भुगतान अभी तक नहीं कर पायी है। उन्होंने कहा कि 2500 रुपए में धान खरीदने का वादा करके सत्ता में आयी कांग्रेस अपने जनघोषणा पत्र के वादों को अभी तक पूरा नहीं कर पायी है।

किसान मोर्चा के प्रदेश प्रभारी संदीप शर्मा ने कहा कि प्रदेश की सरकार किसानों के मुद्दे में पूरी तरह से असफल है। इस सरकार की असफलता को किसान मोर्चा जनता तक ले जाएगी। प्रदेश के अन्नदाता आतंकित है इसलिए आत्महत्या को विवश है। सत्ता के आनंद में मस्त प्रदेश की सरकार को इसकी चिंता नहीं है।

किसान मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष श्यामविहारी जायसवाल ने कहा कि किसानों के बीच हम सतत् संपर्क कर मोर्चे के कार्य को और विस्तार दे रहें है। संगठन की मजबूती और मोर्चे में किसानों के जुड़ाव को लेकर हमारा प्रत्येक कार्यकर्ता संवेदनशील है। निश्चित ही हम मिशन 2023 में सफल होंगे। बैठक को किसान मोर्चा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष पूनम चन्द्राकर, अपेक्स बैक के पूर्व अध्यक्ष अशोक बजाज ने भी संबोधित किया। बैठक के दौरान कोमल सिंह राजपूत ने कृषि प्रस्ताव रखा जिसका समर्थन मनोज शर्मा एवं प्रेमशंकर पटेल ने किया।

कार्यक्रम का संचालन किसान मोर्चा के प्रदेश महामंत्री द्वारिकेश पाण्डेय ने किया। इस मौके पर महामंत्री युधिष्ठिर चंद्राकर, गौरीशंकर श्रीवास, आलोक ठाकुर, प्रशांत चंद्राकर  सहित किसान मोर्चा के पदाधिकारी व कार्यकर्ता शामिल हुए। उक्त जानकारी किसान मोर्चा के प्रदेश मीडिया प्रभारी अजय साहू ने दी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button