business

Safety Tips : कोरोना के बाद चमक रहा है जालसाजों का धंधा…! बैंक के नाम से आने वाले फर्जी कॉल और मैसेज से बचें, आरबीआई ने जारी की ग्राहकों को चेतावनी

इंटरनेट डेस्क। वर्तमान समय में बैंक के नाम पर फर्जी कॉल और मैसेज से धोखाधड़ी के मामले लगातार सामने आ रहे हैं। जालसाज बैंक का नाम लेकर कॉल या मैसेज कर बैंक खाते से जुड़ी गोपनीय जानकारी मांगते हैं और फर्जीवाड़े को अंजाम देते हैं। भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ग्राहकों की सुरक्षा के लिए बीच-बीच में धोखाधड़ी से बचने के लिए सुरक्षा टिप्स शेयर करते रहता है।

.@RBI Kehta Hai..
A little caution takes care of a lot of trouble.
Never respond to requests to share PIN, OTP or bank account details.
Block your card if stolen, lost or compromised.#rbikehtahai #StaySafe#BeAware #BeSecurehttps://t.co/mKPAIp5rA3 pic.twitter.com/V3PRYl5351

— RBI Says (@RBIsays) February 19, 2021

भारतीय रिजर्व बैंक ने इसको लेकर अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल आरबीआई सेज से एक ट्वीट करते हुए ग्राहकों को चेतावनी जारी की है। आरबीआई ने अपने ट्विटर हैंडल के जरिये बताया है कि ग्राहक अपना पिन, ओटीपी और बैंक खाते से जुड़े किसी भी जानकारी को शेयर न करें। केन्द्रीय बैंक ने कहा है कि अगर किसी ग्राहक का कार्ड चोरी हो जाता है या खो जाता है तो तुरंत कार्ड को ब्लॉक करा दें।

बैंक ने इसके अतिरिक्त कहा है कि इसके अलावा ग्राहक किसी भी तरह के KYC डिटेल से जुड़ी जानकारी मांगने पर भी अलर्ट रहें और ऐसी कोई भी जानकारी किसी से भी शेयर न करें। आरबीआई ने हाल ही में मोबाइल नंबरों का उपयोग कर नए धोखाधड़ी के बारे में चेतावनी जारी की थी। नोटिस के अनुसार, बैंकों या वित्तीय संस्थानों के टोल फ्री नंबरों के समान मोबाइल नंबरों से धोखाधड़ी की जा रही है।

पिछले दिनों आरबीआई ने बैंक के नाम से आने वाले फ्रॉड फोन कॉल को लेकर चेतावनी जारी की थी। केन्द्रीय बैंक ने कहा था कि मान लें कि बैंक से आने वाले फोन कॉल की संख्या 1600-123-1234 है। तब ये जालसाज़ 600-123-1234 की तरह ही इसके लिए एक नंबर लेते हैं और इसे ट्रूकॉलर या अन्य सेवा देने वाले एप पर बैंक के टोल फ्री नंबर के रूप में रजिस्टर्ड करते हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button