national

इस राज्य के सीएम ने ‘कोविशील्ड’ और ‘कोवैक्सीन’ को बताया संजीवनी बूटी, बोले- थोड़ा बहुत रिएक्शन तो होता…!

इंटरनेट डेस्क। भारत में 16 जनवरी से कोरोना वैक्सीनेशन शुरू होगा। ऐसे में देशभर में कोरोना वैक्सीन पहुंचाने का कार्य जारी है। इसमें कई विमान सेवा प्रदाता कंपनियों की भी मदद ली जा रही है। मध्यप्रपदेश में कोरोना टीकाकरण को सफल बनाने में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पूरी तरह जुटे हुए हैं। वे लगातार इस बात का निरीक्षण भी कर रहे हैं कि कितनी मात्रा में राज्य में वैक्सीन उपलब्ध कराई गई है और कितनी आवश्यकता और पड़ेगी।


इसी बीच गुरुवार को मकर संक्रांति पर्व पर बातचीत करते हुए राज्य के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौरान ने कहा कि कोविशील्ड और कोवैक्सीन दोनों सुरक्षित हैं और दोनों से प्रतिरोधक क्षमता बनेगी। कोरोना वायरस से बचने के लिए वैक्सीन एक तरह से संजीवनी बूटी है। थोड़ी-बहुत एलर्जी हो सकती है इसकी संभावना है, लेकिन इससे निपटने की भी पूरी तैयारी है।

गौरतलब है कि देशभर में कोरोना वैक्सीन के रूप भारत बायोटेक कंपनी द्वारा निर्मित कोवैक्सीन और सीरम इंस्टीट्यूट द्वारा निर्धारित कोविशील्ड की खुराक दी जाएगी। मध्यप्रदेश में ज्यादा मात्रा में कोवैक्सीन की पहूंच बताई जा रही है। कोविशील्ड कुछ शहरों में दी जाएगी। वहीं ग्रामीण इलाकों में कोवैक्सीन की उपलब्धता ज्यादा रहेगी।

 

 

 

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button