City

कर्जदारी पर रमन को क्या जवाब दिया भूपेश ने

हां हमने कर्ज लिया है, किसानों की कर्ज माफी, धान खरीदी और लोगों की सहायता के लिए – भूपेश

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा है कि हमने कर्ज लिया, इसलिए कि किसानों की कर्ज माफी हो सके और किसानों को धान का समर्थन मूल्य 2500 रुपए दिया जा सके। श्री बघेल ने यह बात पूर्व मुख्यमंत्री डा. रमन सिंह के बयान के जवाब में कही जिसमें उन्होंने कहा था कि सरकार ने दो साल में 26 हजार करोड़ रूपए कर्ज लिया। हमने 15 साल के शासन में 33 हजार करोड़ रुपए कर्ज लिया था। भूपेश बघेल ने कहा कि पिछली सरकार ने मोबाईल बांटने के लिए, नया रायपुर बसाने के लिए कर्ज लिया था। उनकी प्राथमिकता अलग है हमारी अलग। दोनो नेताओं ने विधानसभा में अनुपूरक बजट मांग पर चर्चा के दाैरान अपनी-अपनी बात रखी।

छत्तीसगढ़ विधानसभा में आज चर्चा के बाद ध्वनिमत से 2 हजार 387 करोड़ रूपए का द्वितीय अनुपूरक बजट पारित कर दिया गया। द्वितीय अनुपूरक के बाद अब प्रदेश के वर्ष 2020-21 के मुख्य बजट का आकार कुल एक लाख 9 हजार 101 करोड़ रूपए हो गया है। वर्ष 2020-21 का मुख्य बजट एक लाख 2 हजार 907 करोड़ रूपए का था। प्रथम अनुपूरक का आकार 3 हजार 807 करोड़ रूपए था।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने विधानसभा में हुई चर्चा का जवाब देते हुए कहा कि राज्य सरकार पूरी संजीदगी के साथ धान खरीदी का काम कर रही है, किसानों को किसी प्रकार की दिक्कत नहीं होगी। बारदानों की कमी को दूर करने के लगातार प्रयास किए जा रहे हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारी प्राथमिकता प्रदेश के गरीब, किसान, मजदूर, महिलाएं और युवा हैं। उनकी आर्थिक स्थिति में सुधार करना हमारी प्राथमिकता है। श्री बघेल ने कहा कि हां हमने कर्ज लिया है, किसानों की कर्ज माफी के लिए, धान खरीदी के लिए और लोगों की सहायता करने के लिए। उन्होंने कहा कि पूर्व सरकार ने स्काई वॉक, एक्सप्रेस-वे, मोबाइल खरीदी और नई राजधानी के लिए ऋण लिया, लेकिन इसका प्रदेश की जनता को क्या फायदा हुआ। मुख्यमंत्री ने नई तहसीलों की जनप्रतिनिधियों की मांग के संबंध में कहा कि राज्य सरकार द्वारा 23 नई तहसीले बनाई गई है। भविष्य में जब भी नई तहसीलें बनाई जाएंगी जनप्रतिनिधियों की मांगों को ध्यान में रखा जाएगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button