business

Smriti Irani ने व्यावसायिक संस्कृति के रूप में टिकाऊपन कायम करने पर जोर दिया

नयी दिल्ली। केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने शुक्रवार को कहा कि टिकाऊ विकास की अवधारणा हर किसी के काम में व्यावसायिक संस्कृति का आधार होना चाहिए ताकि उससे समाज और वाणिज्यिक उपक्रम, सबका भला हो सके।

उद्योग संगठन फिक्की द्बारा आयोजित एक वेबिनार को संबोधित करते हुए, महिला और बाल विकास और वस्त्र मंत्री ने कहा कि ''कुछ ऐसे लोग हैं जिन्होंने युवाओं को 'की-बोर्ड योद्धाओं के रूप में बदलकर छोड़ दिया है, लेकिन कोविड के आगमन के साथ, यह स्वीकार करना होगा कि प्रौद्योगिकी वह नींव है जिस पर एक नया भारत बनाया जाएगा।”

ईरानी ने कहा, ''जब हम अपने राष्ट्र को प्रतिकूल स्थितियों के अनुरूप ढालने के लिए एकजुट हुए हैं, हमें सतत रूप से अपने साझेदारों और विकास की संभावनाओं की पहचानने की जरूरत है। उसने कहा कि अब हम मानव इतिहास के एक ऐसे समय में हैं, जहां हम मानते हैं कि टिकाऊ विकास केवल एक पर्यावरणीय वादा नहीं है, बल्कि एक व्यवसाय संस्कृति भी है । इसे हमारे काम की संस्कृति का मुख्य बिन्दु बनाये जाने की आवश्यकता है ताकि इससे वाणिज्यिक उद्यम और वृहद समाज , सबको लाभ हो।(एजेंसी)

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button