national

adhir ranjan chaudhary on Anurag thakur lok sabha

नई दिल्ली। संसद के मानसून सत्र के दौरान लोकसभा (Lok Sabha) में शुक्रवार को उस वक्त हंगामा खड़ा हो गया जब कांग्रेस सांसद अधीर रंजन चौधरी (Adhir Ranjan Chowdhury) ने पीएम केयर्स फंड (PM Cares Fund) पर हो रही चर्चा के दौरान केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर (Anurag Thakur) पर एक विवादित टिप्पणी कर दी। इस टिप्पणी को लेकर लोकसभा में भाजपा और उसके समर्थक दलों के सांसदों ने जमकर हंगामा किया। वहीं कांग्रेस के लोगों ने सदन में अनुराग ठाकुर की ओर से कठोर भाषा का इस्तेमाल करने को लेकर भाजपा की आलोचना की। मामला इतना बढ़ गया कि लोकसभा स्पीकर ने सदन की कार्रवाई को 3 बार स्थगित किया। बाद में 5 बजे जब सदन की कार्रवाई फिर शुरू हुई तो विपक्षी सांसदों ने अनुराग ठाकुर से माफी मांगने की मांग की और इसपर अड़े रहे।

दरअसल लोकसभा में अनुराग ठाकुर पीएम केअर्स फंड का हिसाब दे रहे थे। उन्होंने गांधी परिवार का जिक्र किया और उन नामों को उजागर करने की धमकी दी, जिन्हें पीएम राष्ट्रीय राहत कोष से लाभ मिला। विपक्ष के सांसदों ने उनके इस बयान का विरोध किया। अनुराग ने भाषण में आगे कहा कि विपक्ष के लोग सिर्फ विरोध के लिए पीएम केयर्स फंड के खिलाफ बोल रहे हैं। ऐसे ही ये ईवीएम, जीएसटी और ट्रिपल तलाक कानून और सभी चीजों को गलत बताते रहे और कई चुनाव हारते रहे।

Union Minister Anurag Thakur

वहीं चर्चा के दौरान ही अधीर रंजन चौधरी ने अनुराग ठाकुर पर तंज कसते हुए एक विवादित टिप्पणी कर दी। इसे लेकर भी बीजेपी के सदस्यों ने जमकर हंगामा किया। कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने कहा, जब पीएम केयर्स फंड पर चर्चा हो रही थी और वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण जी बोल रही थीं, तो हम सब ध्यान से सुन रहे थे। लेकिन बीच में वो हिमाचल का लड़का कहां से आ गया और आकर सारा माहौल खराब कर दिया। इस चर्चा में नेहरू, सोनिया गांधी को लाने की जरूरत पड़ी? हमने कभी कहा कि पीएम मोदी पीएम केयर्स फंड में चोरी करते हैं। राजनाथ जी यहां बैठे हैं, आप बताइए कि क्या हमने कोई गलती की, या फिर आपके इस तीन दिन के लड़के ने गलती की है।

Lok sabha

इस बीच लोकसभा स्पीकर ने सदस्यों को समझाने की कोशिश की तो टीएमसी और कांग्रेस ने उनपर पक्षपात करने का आरोप भी लगाया। टीएमसी सांसद कल्याण बनर्जी ने आरोप लगाया कि लोकसभा अध्यक्ष बीजेपी सदस्यों का बचाव कर रहे हैं। बनर्जी ने कहा कि अध्यक्ष हमेशा विपक्षी सदस्यों को रोकते हैं। कल्याण बनर्जी ने यहां तक कहा दिया कि अगर अध्यक्ष उन्हें निलंबित करना चाहते हैं, तो वो इसके लिए तैयार हैं, लेकिन वे इस तरह के व्यवहार को अब बर्दाश्त नहीं कर सकते। अधीर रंजन चौधरी ने भी कल्याण बनर्जी का समर्थन किया। उन्होंने कहा कि नव निर्वाचित सदस्य भी विपक्षी सदस्यों के खिलाफ अभद्र भाषा का प्रयोग कर रहे हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button