national

AIIMS से अमित शाह को मिली छुट्टी, सांस लेने में तकलीफ की शिकायत के बाद हुए थे भर्ती, Home Minister Amit Shah Discharge Delhi AIIMS

नई दिल्ली। गृहमंत्री अमित शाह (Amit Shah) को गुरुवार को दिल्ली स्थित एम्स (AIIMS) से डिस्चार्ज कर दिया गया हैं। बीते दिनों से एम्स में उनका इलाज चल रहा था। कोरोना का इलाज कराकर घर लौटे गृहमंत्री अमित शाह को सांस लेने में तकलीफ के चलते एम्स में भर्ती किया गया था। अब उन्हें आज डिस्चार्ज कर दिया गया है। अमित शाह एम्स के कार्डियो न्यूरो टावर में भर्ती थे। कोरोना से उबरने के बाद की देखभाल (पोस्ट-कोविड ट्रीटमेंट) के लिए एम्स में भर्ती हुए थे और 31 अगस्त को उन्हें छुट्टी मिली थी। इसके बाद उन्हें सांस से जुड़ी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा था। जिसके बाद उन्हें फिर से शनिवार को एम्स में एडमिट कराया गया था। हालांकि एम्स में एडमिट होने के बावजूद भी गृहमंत्री अमित शाह लगातार अपने काम को लेकर एक्टिव रहे। गुरुवार को अमित शाह ने अस्पताल से ही गुजरात की गांधीनगर लोकसभा क्षेत्र में ₹229 करोड़ की लागत वाली 24X7 जलापूर्ति योजना का शिलान्यास वीडियो कॉन्फ़्रेन्सिंग के जरिए किया था। यह योजना प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन के उपलक्ष्य में मनाए जा रहे ‘सेवा सप्ताह’ के चलते की शुरू की गई है।

योजना की शुरुआत करते हुए गृहमंत्री ने कहा था, ‘एक स्वस्थ व समृद्ध भारत हमेशा से मोदी जी का प्रण रहा है। यह योजना मोदी सरकार की ‘हर घर जल’ के संकल्प का दर्शाती है जिससे गांधीनगर की जनता को 24 घंटे और 365 दिन शुद्ध पेयजल प्राप्त होगा और वो बीमारियों से बचेंगे।’ शाह ने आह्वान किया था कि सभी को मिलकर अपने प्रयासों से इस ‘सेवा सप्ताह’ को सार्थक बनाना चाहिए।

बता दें, अगस्त में अमित शाह कोरोना की चपेट में आ गए थे। जिसके बाद उन्हें गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में भर्ती कराया गया था। करीब दो हफ्ते में अमित शाह ने कोरोना को मात दी और 14 अगस्त को उनकी कोरोना रिपोर्ट निगेटिव आई। इसके बाद उन्हें मेदांता हॉस्पिटल से छुट्टी मिल गई और उन्हें होम आइसोलेशन में रहने की सलाह दी गई। हालांकि बाद में सांस लेने में तकलीफ के चलते उन्हें एम्स में दाखिल होना पड़ा था।

अपने मोबाइल पर REAL TIMES का APP डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें
advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button