State

स्वच्छता को बढ़ावा देने वाले पंचायतों को 4 करोड़ 34 लाख का इनाम देगी भूपेश सरकार

रायपुर. गांवों में स्वच्छता को बढ़ावा देने राज्य स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) द्वारा चार करोड़ 34 लाख रूपए के पुरस्कार (Bhupesh Sarkar will reward) दिए जाएंगे। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल इन पुरस्कारों के लिए चयनित ग्राम पंचायतों और प्रतिभागियों को गांधी जयंती पर 2 अक्टूबर को पुरस्कृत करेंगे।

पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री टी.एस. सिंहदेव ने शुक्रवार को राज्य स्वच्छता पुरस्कार-2020 के तहत 15 श्रेणियों में दिए जाने वाले पुरस्कारों की घोषणा की। इस मौके पर उन्होंने कहा कि खुले में शौचमुक्त हो चुके गांवों में इसका स्थायित्व बरकरार रखने, समुदाय की सहभागिता और लोगों में साफ-सफाई की अच्छी आदतों को प्रेरित करने ये पुरस्कार दिए जा रहे हैं। स्वच्छता को बढ़ावा देने अलग-अलग स्तरों पर अलग-अलग तरह के बेहतर काम करने वाले विभिन्न वर्गों को पुरस्कृत किया जाएगा।

2 अक्टूबर को मिलेगा पुरस्कार

मंत्री सिंहदेव ने कहा कि प्रतिभागियों के बीच इन पुरस्कारों (Bhupesh Sarkar will reward) के लिए स्वस्थ प्रतिस्पर्धा से ग्रामीण क्षेत्रों में स्वच्छता की आदतों और व्यवहार में दीर्घकालिक बदलाव लाने में मदद मिलेगी। ठोस एवं तरल अपशिष्ट प्रबंधन, प्लास्टिक अपशिष्ट प्रबंधन तथा महिलाओं एवं किशोरियों में माहवारी स्वच्छता के प्रति जागरूकता लाने में भी इससे सहायता मिलेगी। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ स्वच्छ भारत मिशन के क्रियान्वयन में अग्रणी राज्य है।

मिशन द्वारा इस प्रोत्साहन से ग्रामीणों में स्वच्छता की उत्कृष्ट स्थिति प्राप्त करने और उसे लगातार बनाए रखने की जागृति पैदा होगी। चयनित विजेताओं को राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की जयंती पर 2 अक्टूबर को पुरस्कार (Bhupesh Sarkar will reward) वितरित किए जाएंगे।

इस श्रेणी में मिलेगे पुरस्कार

  • स्वच्छ सुंदर शौचालय पुरस्कार
  • उत्कृष्ट सेग्रिगेशन शेड
  • उत्कृष्ट निबंध सृजन प्रतियोगिता
  • दीवार लेखन प्रतियोगिता
  • प्लास्टिक मुक्त ग्राम पंचायत
  • उत्कृष्ट स्वच्छाग्रही समूह पुरस्कार
  • उत्कृष्ट बायोगैस संयंत्र पुरस्कार
  • सामुदायिक शौचालय निर्माण की पायलट परियोजना
  • उत्कृष्ट ड्राइंग-डिजायन प्रतियोगिता
  • सेग्रिगेशन शेड का उत्कृष्ट ड्राइंग-डिजाइन
  • ग्रामीण स्वच्छता के संबंध में सर्वश्रेष्ठ नवाचार का  
  • स्वच्छता स्थायित्व पुरस्कार

देश-प्रदेश की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें…

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button