national

WHO के एग्जीक्यूटिव चैयरमेन बनेंगे, स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन

नईदिल्ली,(Realtimes) करोना संकट के इस दौर में देशभर में स्वास्थ्य इंतजामों का जिम्मा संभाल रहे केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन को विश्व स्वास्थ्य संगठन यानी कि डब्ल्यूएचओ में एक अहम जिम्मेदारी मिलने जा रही है. उन्हें 34 सदस्य के एग्जीक्यूटिव बोर्ड के अगला चेयरमैन बनाया गया है. हर्षवर्धन 22 मई को यह पदभार ग्रहण करेंगे।

जापान के डॉक्टर की जगह संभालेंगे पदभार

स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन सिंह जापान के डॉक्टर हिरोकी नकतानी की जगह इस पद को ग्रहण करेंगे. 194 देशों की वर्ल्ड हेल्थ असेंबली में मंगलवार को भारत की तरफ से दाखिल हर्षवर्धन के नाम पर निर्विरोध चयन कर लिया गया. इससे पहले डब्ल्यूएचओ के साउथ एशिया ग्रुप में 3 साल के लिए भारत को बोर्ड के मेंबर मैं शामिल करने पर सहमति जता दी थी.

भारत का चेयरमैन 1 साल रहेगा

22 मई को अधिकारियों के मुताबिक बोर्ड की बैठक होगी. बोर्ड के चेयरमैन का पद कई देशों में अलग-अलग ग्रुप में 1 – 1 साल के हिसाब से दिया जाता है. पिछले साल तय हुआ था कि अगले साल के लिए यह पद भारत के पास रहेगा. हर्षवर्धन एग्जीक्यूटिव बोर्ड की मीटिंग की अध्यक्षता करेंगे. यह मीटिंग साल में दो बार होती है. 1 जनवरी और दूसरी मई के आखिर मैं यह मीटिंग होती है ।

स्वास्थ्य क्षेत्र के महारथी होते हैं सदस्य

डब्ल्यूएचओ के एक्सक्यूटिव बोर्ड में शामिल 34 सदस्य स्वास्थ्य क्षेत्रों के खासे जानकार होते हैं. जिन्हें 194 देशों की वर्ल्ड हेल्थ असेंबली से 3 साल के लिए इस बोर्ड में चुना जाता है. इसके बाद इन्हीं सदस्यों में से एक 1 साल के लिए चेयरमैन बनाया जाता है. इस बोर्ड का काम हेल्थ असेंबली में तय होने वाले फैसले नीतियों को सभी देशों को ठीक तरह से लागू करवाने का होता है.

National News और Chhattisgarh  से जुड़ी अपडेट्स के लिए हमें  Facebook पर Like करें, Twitter पर Follow करें  और Youtube  पर  subscribe करें।

अपने मोबाइल पर REAL TIMES का APP डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
COVID-19 LIVE