national

अर्णब को गिरफ्तारी से तीन हफ्ते की मिली मोहलत

नईदिल्ली (Realtimes) कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के खिलाफ लाइव टीवी पर अपमानजनक टिप्पणी और साम्प्रदायिकता फैलाने के आरोप को लेकर अर्णब गोस्वामी न सुप्रीमकोर्ट का दरवाजा खटखटया है, जिसको लेकर आज सुबह सुप्रीम कोर्ट की दो सदस्यीय पीठ जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ और जस्टिस एमआर शाह ने सुनवाई की।

सुप्रीम कोर्ट ने अर्णब गोस्वामी को फौरी राहत दी है और गिरफ्तारी पर तीन सप्ताह तक रोक लगा दी है। सुप्रीम कोर्ट ने राज्यों को नोटिस जारी किया है और साथ ही याचिका में संशोधन की अनुमति भी दी है।

सुप्रीम कोर्ट ने अपने अंतरिम आदेश में याचिकाकर्ता अर्णब गोस्वामी को 3 सप्ताह की अंतरिम सुरक्षा और उनके खिलाफ कोई ठोस कार्रवाई नहीं करने का आश्वासन दिया। कोर्ट ने यह भी कहा कि वह तीन सप्ताह में अग्रिम जमानत की अर्जी डाल सकते हैं।

इससे पहले अर्णब गोस्वामी की ओर से कोर्ट में पेश हुए एडवोकेट मुकुल रोहतगी ने कहा कि मेरे मुवक्किल के खिलाफ महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, राजस्थान, पंजाब, तेलंगाना और जम्मू-कश्मीर में एफआईआर दर्ज की गई हैं। सभी शिकायतें लगभग समान हैं।

कहां-कहां एफआईआर ?

बता दें कि अर्णब के खिलाफ गुरुवार को भी कई कांग्रेस शासित राज्यों में मुकदमें दर्ज होने का सिलसिला जारी रहा। अर्णब के खिलाफ पंजाब, छत्तीसगढ़, राजस्थान और झारखंड के अलग-अलग थानों में एक दर्जन से अधिक एफआईआर कांग्रेस नेताओं के द्वारा दर्ज कराई जा चुकी हैं।

अपने मोबाइल पर REAL TIMES का APP डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
COVID-19 LIVE