मौसम डेटा स्रोत: रायपुर मौसम
business

UPI के जरिए श्रीलंका और मॉरीशस में भी किया जा सकेगा भुगतान, दोनों देशों के ट्रैवलर्स को होगी सुविधा

UPI Launch In Moritius-Sri Lanka: अब भारत का ऑनलाइन बैंकिंग ट्रांसफर सिस्टम UPI यानी यूनिफाइड पेमेंट इंटरफेस फ्रांस, श्रीलंका और मॉरीशस में भी काम करेगा। सोमवार को शुभारंभ कार्यक्रम में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए श्रीलंका-मॉरीशस में UPI की शुरूआत की गईं। इस प्रोग्राम में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, श्रीलंका के राष्ट्रपति रानिल विक्रमसिंघे और मॉरीशस के प्रधानमंत्री प्रविंद जुगनाथ ने हिस्सा लिया। भारतीय सेवाओं की शुरुआत दोनों देशों श्रीलंका व मॉरीशस के साथ हुए द्विपक्षीय आर्थिक संबंधों की पृष्ठभूमि में प्रगाढ़ता हुई हैं। बता दें भारतीय उच्चायोग ने 11 फरवरी को श्रीलंका-मॉरीशस में यूपीआई लॉन्च की घोषणा की थी।

विदेश में ऐसे काम करेगी UPI सर्विस

मॉरीशस और श्रीलंका में यूपीआई सर्विस से भुगतान करने के लिए लोगों को अपने बैंक अंकाउट से UPI-इनेबल्ड मोबाइल एप्लिकेशन के साथ पंजीकरण करना होगा। एक बार बैंक खाते से लिंक हो जाने के बाद उपभोक्ताओं को ट्रांसफर अमाउंट और करेंसी स्पेसिफाइंग करने के अलावा रिसिपेंट की जानकारी जैसे कि उनका खाता नंबर, आईबीएएन व बीआईसी देने के लिए कहा जाएगा।

RuPay कार्ड सर्विस भी मिलेगी

विदेश मंत्रालय ने रविवार को एक प्रेस विज्ञप्ति जारी कर इस लॉन्च की जानकारी साझा की थी। जिसमें उन्होंने बताया “श्रीलंका और मॉरीशस में यूपीआई सेवाएं शुरू होने के बाद दोनों देशों के लोग अपने-अपने स्थानों पर इसका इस्तेमाल कर सकेंगे। इसके अलावा भारत से मॉरीशस और श्रीलंका जाने वाले यात्री और वहां से भारत आने वाले यात्री भी इसके जरिए भुगतान कर सकेंगे। मॉरीशस में सिर्फ UPI ही नहीं बल्कि RuPay कार्ड सर्विस भी लॉन्च की गई हैं।

UPI सेवा की 2016 में हुई थी शुरूआत

वर्ष 2016 में नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (NPCI) द्वारा संचालित UPI सेवा लॉन्च की गई थी। जिससे ऑनलाइन पेमेंट करना बहुत आसान हो गया है। IMPS मॉडल से विकसित UPI सीधे बैंक खातों में आसान धन हस्तांतरण की सुविधा प्रदान करता है। श्रीलंका और मॉरीशस से पहले यूपीआई सुविधा फ्रांस, सिंगापुर, यूएई, नेपाल और भूटान में सक्रिय है।

यह भी पढ़ें: पेटीएम को लगा एक और झटका, PAYTM PAYMENTS BANK के डायरेक्टर ने पद से दिया इस्तीफा

Related Articles

Back to top button