मौसम डेटा स्रोत: रायपुर मौसम
Top News

इजरायल पर हमले के बाद बंधकों को शिफा अस्पताल ही क्यों लाया हमास

7 अक्टूबर के बाद शुरू हुए इजरायल-हमास युद्ध के एक महीने से अधिक का समय हो गया है। इजरायली सेना लगातार हमास के ठिकानों को तबाह कर रही है। इस बीच इजरायल डिफेंस फोर्स ने गाजा के अल शिफा अस्पताल का एक वीडियो जारी किया है।

इजरायल डिफेंस फोर्स ने जारी किया वीडियो

इस वीडियो में हमास के आतंकी इजरायली बंधकों को जबरन अस्पताल में ले जाते हुए दिखाई दे रहे। इजरायल डिफेंस फोर्स (IDF) ने वीडियो जारी कर कहा कि हमास द्वारा 7 अक्टूबर के नरसंहार के बाद बंधकों को शिफा अस्पताल में लाया गया था।

44 दिन बाद भी बंधकों को नहीं किया गया रिहा

IDF ने कहा कि 44 दिन बाद भी हमास ने 200 से अधिक नागरिकों को बंधक क्यों बना रखा है? यही वो सवाल है, जो पूरी दुनिया को पूछना चाहिए। इजरायल डिफेंस फोर्स ने कहा कि जब 7 अक्टूबर को हमास ने इजरायल में नरसंहार किया था तो उसके बाद बंधकों को शिफा अस्पताल में रखा था। उन्होंने कहा कि हमास दावा करता है कि वह बंदियों को इलाज के लिए अस्पताल लाया था। जबकि सच यह है कि अल शिफा अस्पताल जाने के रास्ते में बहुत अस्पताल पड़े थे, लेकिन उन्हें वहां नहीं ले जाया गया।

7 अक्टूबर को किया इजरायल पर हमला

बता दें कि 7 अक्टूबर को हमास द्वारा इजरायल पर हमला किया गया था। हमास के इस हमले में एक हजार से अधिक बेकसूर इजरायली नागरिक मारे गए। जबकि 200 से अधिक लोगों को हमास ने बंदी बना लिया था।

अल शिफा अस्पताल में मिली हमास की सुरंग

इजरायली सेना ने हाल ही में गाजा के सबसे बड़े अस्पताल अल शिफा में सर्च ऑपरेशन चलाया था। इस दौरान इजरायल डिफेंस फोर्स ने अस्पताल में मौजूद हमास की सुरंग को ढूंढ निकाला था। इजरायल ने दावा किया कि अस्पताल में मौजूद इस सुरंग से ही हमास अपने ऑपरेशन को अंजाम दे रहा है।

Related Articles

Back to top button