City

आज से जूनियर डॉक्टर्स अस्पतालों में करेंगे इलाज, 6 दिन चली हड़ताल खत्म





रायपुर । प्रदेश में चल रही जूनियर डॉक्टर्स की हड़ताल 6 दिन बाद खत्म हो गई है। आज से पूरे प्रदेश के जूनियर डॉक्टर्स अस्पतालों में इलाज करना शुरू कर देंगे। बता दें कि छत्तीसगढ़ जूनियर डॉक्टर्स एसोसिएशन के प्रतिनिधिमंडल ने आईएमए रायपुर के अध्यक्ष डॉ. राकेश गुप्ता के नेतृत्व में मंगलवार की देर शाम सीएम हाउस में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से मुलाकात की। इस दौरान प्रतिनिधिमंडल ने सीएम को एसोसिएशन के विभिन्न मांगों से संबंधित ज्ञापन भी सौंपा। इसके बाद जूडा ने अपनी हड़ताल वापस ले ली है।

मुख्यमंत्री ने प्रतिनिधिमंडल से चर्चा करते हुए ज्ञापन के परीक्षण के बाद उनकी मांगों पर तत्परतापूर्वक उचित कार्यवाही के लिए आश्वस्त किया। इस अवसर पर प्रतिनिधिमंडल में डॉ. प्रेम चौधरी, डॉ. गौरव सिंह परिहार, डॉ. पवन बृज, डॉ. अमन अग्रवाल, डॉ. व्योम अग्रवाल, डॉ. विधि आदि मौजूद रहे।

इसके पहले जूनियर रेजिडेंट डॉक्टर्स के प्रतिनिधिमंडल ने प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव, डीएमई और डीन के साथ मुलाकात की थी। स्वास्थ्य मंत्री ने जूडा की मांगों को ध्यान से सुना था। दूसरे राज्यों के स्टाइपेंड को भी देखा और यहां मिलने वाले स्टाइपेंड को कम पाया। उन्होंने जूडा के मांगों को जायज ठहराया था। मामले में कार्रवाई करने के लिए वित्त मंत्रालय से अनुरोध किया था।

ये है पूरा मामला

जूनियर डॉक्टर्स एसोसिएशन के अनुसार मप्र और झारखंड से भी कम मानदेय छत्तीसगढ़ के जूनियर डॉक्टर्स को मिलता है। दूसरे प्रदेशों में जहां 90 हजार रुपए तक का फंड है। वहीं छत्तीसगढ़ में 50-55 हजार रुपए ही मिलते हैं। वहीं किसी भी प्रदेश में 4 साल के बॉन्ड नहीं भरवाए जाते हैं। केवल छत्तीसगढ़ में ही ऐसा किया जा रहा है। बीते 4 साल में मानदेय नहीं बढ़ा है। इस वजह से मजबूरन हड़ताल करना पड़ रहा है। इस दौरान पिछले 6 दिनों से प्रदेश के 3000 जूनियर डॉक्टर हड़तार पर बैठे थे।








Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button