State

भाजपा के राष्ट्रीय कार्यालय दिल्ली में झंडा फहराने वाले छत्तीसगढ़ के पहले नेता बनेंगे डॉ. रमन

रायपुर. प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह का कद कम से कम भाजपा के राष्ट्रीय संगठन में बहुत ऊंचा है। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा गणतंत्र दिवस पर पारिवारिक कारणवश दिल्ली में नहीं रह पाएंगे, इसलिए राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह को भाजपा के राष्ट्रीय कार्यालय दिल्ली में गणतंत्र दिवस पर झंडा फहराने का जिम्मा दिया गया है। इसके पहले कभी भी छत्तीसगढ़ के किसी नेता को ऐसी जिम्मेदारी नहीं दी गई थी। डॉ. रमन सिंह को राष्ट्रीय संगठन में बहुत ज्यादा महत्व दिया जाता है, यही वजह है कि यह बड़ी जिम्मेदारी उनको दी गई है। डॉ. रमन आज शाम काे  दिल्ली जाएंगे।

गणतंत्र दिवस और स्वतंत्रता दिवस पर भाजपा के राष्ट्रीय संगठन के कार्यालय में आमतौर पर झंडा फहराने का काम राष्ट्रीय अध्यक्ष करते हैं। किसी कारणवश राष्ट्रीय अध्यक्ष के न रहने पर ही यह जिम्मा वरिष्ठ राष्ट्रीय उपाध्यक्ष को दिया जाता है। इस बार 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के अवसर पर भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा पारिवारिक कारण से दिल्ली से बाहर रहेंगे। ऐसे समय में भाजपा के राष्ट्रीय संगठन ने तय किया कि झंडा फहराने का जिम्मा किसी वरिष्ठ काे दिया जाए। 15 सालों तक छत्तीसगढ़ में मुख्यमंत्री रहने वाले और इसके पूर्व केंद्रीय मंत्री रहे और वर्तमान में राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डॉ. रमन सिंह को झंडा फहराने का जिम्मा देने का फैसला किया गया है।

राष्ट्रीय संगठन में रमन की बड़ी अहमियत
डॉ. रमन सिंह की राष्ट्रीय संगठन में बड़ी अहमियत है। कई अवसरों पर उनको राष्ट्रीय संगठन बड़ी जिम्मेदारी देता है। किसी राज्य में अगर कोई समस्या होती है तो उसको सुलझाने के लिए डॉ. रमन को भेजा जाता है। पिछले साल दिल्ली में हुई राष्ट्रीय कार्यसमिति के बाद कार्यसमिति के बारे में मीडिया को जानकारी देने की जिम्मेदारी डा. रमन को दी गई थी।
छत्तीसगढ़ के पहले नेता
डॉ. रमन छत्तीसगढ़ के ऐसे पहले नेता हैं जिनको राष्ट्रीय संगठन ने राष्ट्रीय कार्यालय में झंड़ा फहराने की जिम्मेदारी दी है। इसके पहले कभी भी किसी नेता को इतनी बड़ी जिम्मेदारी नहीं दी गई। डॉ. रमन बुधवार की शाम को रायपुर से दिल्ली के लिए रवाना होंगे। 26 जनवरी को राष्ट्रीय कार्यालय के झंडा रोहण कार्यक्रम में शामिल होने के साथ ही वे एक पारिवारिक शादी समारोह में भी शामिल होंगे और 27 जनवरी को वापस रायपुर लाैटेंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button