मौसम डेटा स्रोत: रायपुर मौसम
business

भारतीय अर्थव्यवस्था के लिए भयावह रहा साल 2022: कांग्रेस

नई दिल्ली :कांग्रेस  ने कई आर्थिक मानकों का उल्लेख करते हुए मंगलवार को दावा किया कि देश की अर्थव्यवस्था के लिए वर्ष 2022 भयावह रहा और सरकार आर्थिक मोर्चे पर पूरी तरह विफल साबित हुई। पार्टी प्रवक्ता गौरव वल्लभ ने संवाददाताओं से कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने इस साल को अर्थव्यवस्था के लिहाज से अद्भुत बताया है, जबकि हकीकत इसके उलट है।

उन्होंने कहा, ”प्रधानमंत्री जी ने कहा कि देश पांचवीं बड़ी अर्थव्यवस्था बन गया है। प्रधानमंत्री जी पूरी जीडीपी नहीं, प्रति व्यक्ति आय की तुलना करिये। अपने हिसाब से तुलना मत करिये।’’कांग्रेस  नेता ने दावा किया, ”प्रति व्यक्ति आय के मामले में दुनिया में हमारा स्थान 142वां है। वैश्विक भूख सूचकांक के मामले में एशिया में हम सिर्फ अफगानिस्तान से ऊपर हैं। डॉलर के मुकाबले रुपये की कीमत में 10 प्रतिशत की गिरावट आई।’’

वल्लभ ने कहा, ”देश में बेरोजगारी दर शहरी क्षेत्रों में 10 प्रतिशत और राष्ट्रीय स्तर पर 8.6 प्रतिशत है। मोदी जी ने ‘डेमोग्रैफिक डिविडेंड’ को ‘डेमोग्रैफिक डिजास्टर’ बना दिया।
पूरे साल महंगाई दर रिजर्व बैंक की अधिकतम सीमा छह प्रतिशत से अधिक रही। इस साल दुनिया की लगभग सारी रेटिग एजेंसियों ने भारत की अर्थिक वृद्धि के अनुमान में कमी की है।’’ कांग्रेस  नेता ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम में गिरावट के बावजूद सरकार ने लोगों को राहत नहीं दी तथा साल के आखिर में दूध के दाम भी बढ़ा दिए। उन्होंने दावा किया, ”इन सबके बावजूद प्रधानमंत्री कहते हैं कि अर्थव्यवस्था के लिहाज से यह अद्भुत वर्ष है। हमारा मानना है कि यह वर्ष भारत की अर्थव्यवस्था के लिए अद्भुत नहीं, भयावह रहा।’’ 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button