मौसम डेटा स्रोत: रायपुर मौसम
national

India-China : कांग्रेस सांसदों ने एलएसी पर झड़प को लेकर संसद में चर्चा की मांग करते हुए नोटिस दिए

नई दिल्ली :कांग्रेसके कई सांसदों ने भारतीय और चीनी सैनिकों के बीच अरुणाचल प्रदेश के तवांग सेक्टर में वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) के निकट हुई झड़प की घटना को लेकर मंगलवार को संसद के दोनों सदनों में चर्चा की मांग करते हुए कार्यस्थगन के नोटिस दिए।

पार्टी सांसद मनीष तिवारी ने लोकसभा में नोटिस देकर मांग की है कि प्रश्नकाल, शून्यकाल और अन्य विधायी कार्यों को रोककर इस विषय पर चर्चा कराई जाए। उन्होंने मांग की कि सरकार तवांग और चीन की सीमा से लगे अन्य क्षेत्रों की स्थिति के बारे में सदन को सूचित करें क्योंकि यह भारत की संप्रभुता और स्वतंत्रता से जुड़ा विषय है। कांग्रेसमहासचिव एवं राज्यसभा सदस्य रणदीप सुरजेवाला ने नियम 267 के तहत उच्च सदन में सभी विधायी कार्यों को स्थगित करने की मांग की है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी सदन में आकर अरुणाचल प्रदेश संबंधी घटनाक्रम पर बयान दें।

कांग्रेस के नेता एवं राज्यसभा सदस्य सैयद नासिर हुसैन ने भी उच्च सदन में एलएसी पर झड़प के विषय को लेकर नियम 176 के तहत अल्कालिक चर्चा की मांग की है।कांग्रेसके राज्यसभा सदस्यों रंजीत रंजन, रजनी पाटिल, जेबी मेथर, एल हनुमनथैया और शक्ति सिह गोहिल ने भी एलएसी पर झड़प के मुद्दे पर नियम 267 के तहत कार्यस्थगन के नोटिस दिए हैं। कांग्रेस ने सोमवार को आरोप लगाया था कि प्रधानमंत्री मोदी अपनी छवि बचाने के लिए देश को खतरे में डाल रहे हैं।

पार्टी ने यह भी कहा था कि इस मुद्दे पर संसद में चर्चा होनी चाहिए और सरकार को देश को भरोसे में लेना चाहिए। सैन्य सूत्रों ने सोमवार को बताया था कि भारतीय और चीनी सैनिकों की अरुणाचल प्रदेश के तवांग सेक्टर में वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) के निकट एक स्थान पर नौ दिसंबर को झड़प हुई, जिससे दोनों पक्षों के कुछ जवान मामूली रूप से घायल हो गये। उन्होंने कहा था कि भारतीय सैनिकों ने चीनी पीएलए सैनिकों का डटकर मुकाबला किया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button