State

नेताम काे गिरफ्तार करने पहुंची झारखंड पुलिस पर भूपेश-रमन में जुबानी जंग 

रायपुर(realtimes) भानुप्रतापपुर के भाजपा प्रत्याशी ब्रह्मानंद नेताम काे  सोमवार को झारखंड पुलिस गिरफ्तार करने पहुंची। इस मामले में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और पूर्व मुख्यमंत्री डा. रमन सिंह एक बार फिर आमने-सामने हो गए हैं। भूपेश बघेल ने कहा, बृजमोहन अग्रवाल और भाजपा नेता गिरफ्तार करने को लेकर चुनौती दे रहे थे। अब झारखंड पुलिस पहुंच गई तो इस मामले को षडयंत्र बताने लगे हैं। इस पर पलटवार करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा, तीन साल पुराने मामले में पहले कुछ नहीं किया गया, अब राजनीति के तहत झारखंड पुलिस को बुलाया गया है, इसलिए इसे षडयंत्र कह रहे हैं। 

भूपेश बघेल ने पत्रकारों से चर्चा करते हुए कहा, कानून अपना काम कर रहा है। किसी के दोस्त रहने से कोई गिरफ्तारी नहीं हो जाती। 15 साल की नाबालिग के साथ रेप किया गया था, उस मामले में ये केस दर्ज हुआ है। वह भी 2019 में, जब झारखंड में रघुवर दास यानी भाजपा की सरकार थी। भाजपा नेताओं को उनसे पूछना चाहिए कि इतना पहले षडयंत्र कैसे शुरू हो गया था। कानून अपना काम करता है। दूसरे राज्य की पुलिस आती है, यहां थाने अथवा एसपी ऑफिस से मदद मांगती है तो जो भी प्रक्रिया है, उसके तहत मदद की जाती है। श्री बघेल ने भाजपा पर दुष्कर्मी को बचाने का आरोप लगाया है।

पास्को एक्ट में 24 घंटे में कार्रवाई होती है, तीन साल में नहीं : रमन

पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा, पास्को एक्ट में 24 घंटे में कार्रवाई की जाती है। 3 साल तक झारखंड की पुलिस इंतजार करती रही। कांग्रेस हार के डर से कार्रवाई कर रही है। पूरी घटना राजनीति से प्रेरित है। चुनाव में हार को देखते हुए ही यह कदम उठाया गया है। सीएम भूपेश बघेल के बयान पर पलटवार करते हुए कहा, षडयंत्र का आरोप इसलिए लगाया जा रहा है, क्योंकि 3 साल तक आखिर क्यों गिरफ्तारी नहीं की गई? कोई नोटिस, सूचना, एक भी समन जारी नहीं किया गया। जो हो रहा है, वह गलत है, उसका विरोध किया जाएगा। ईडी-आईटी के श्री बघेल के बयान पर डॉ. रमन ने कहा, इतना बड़ा कोल घोटाला ईडी ने प्रमाणित किया है। आज तक किसी मुख्यमंत्री ने एक साथ इतने ट्वीट नहीं किए हैं। भूपेश जी इतनी बेचैनी और घबराहट क्यों है? ईडी अपनी कार्रवाई कर रही है। 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button