State

28 साल बाद खाली हुआ वक्फ संपत्ति से कब्जा, सुप्रीम कोर्ट का आदेश

रायपुर(realtimes) छत्तीसगढ़ वक्फ बोर्ड की संपत्ति पर 28 साल से कायम कब्जा सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर खाली कराने का आदेश जारी हुआ है। वक्फ बोर्ड के लिए इसे एक बड़ी सफलता माना जा रहा है। बोर्ड के मुताबित  सर्वोच्च न्यायालय ने अतिक्रमणकारी को वक्फ सम्पत्ति (04 दुकान) खाली कर कब्जा सौंपने का आदेश दिया है।  इस प्रकरण में न केवल उच्च न्यायालय बिलासपुर ने अपितु माननीय सर्वोच्च न्यायालय ने भी वक्फ सम्पत्ति के अतिक्रमणकारीयों को समय सीमा में कब्जा खाली कर वक्फ संस्था को कब्जा सौंपे जाने के आदेश दिये गये हैं।

ये है मामला

वक्फ संस्था जामा मस्जिद कमेटी, डोंगरगढ़ की वक्फ सम्पत्ति (04 दुकानों) पर  जनरल सिंह कक्कड विगत 28 वर्षों से काबिज थे। वक्फ सम्पत्ति पर अवैध कब्जा खाली करने का प्रकरण वक्फ बोर्ड में पंजीबद्ध हुआ। वक्फ बोर्ड द्वारा वक्फ सम्पत्ति से कब्जा खाली कर वक्फ संस्था को सौंपने के आदेश दिये गये। इस संबंध में वक्फ अधिकरण ने भी इस आदेश की वैधानिकता की पुष्टि कर समकक्ष आदेश पारित किये गये। इसके बाद  प्रकरण उच्च न्यायालय बिलासपुर में विचाराधीन रहा। न्यायमूर्ति दीपक कुमार तिवारी ने इस प्रकरण में बोर्ड व अधिकरण के आदेश को सही माना तथा कब्जाधारी को 45 दिवस के भीतर दुकान खाली कर जामा मस्जिद कमेटी, डोंगरगढ़ को सौंपे जाने के आदेश दिये गये। 

सुप्रीम कोर्ट ने दिया ये आदेश

याचिकाकर्ता जनरल सिंह कक्कड द्वारा सर्वोच्च न्यायालय में याचिका दायर की गई। इस याचिका पर विचार करते हुए सर्वोच्च न्यायालय की डबल बैंच में  डॉ. जस्टिस डी. वाय. चन्द्राचूड व माननीय जस्टिस  हीमा कोहली द्वारा एस. एल. पी. (सी). 15683/ 2022 में याचिकाकर्ता की याचिका को खारिज करते हुए वक्फ सम्पत्ति पर से अवैध कब्जा समय-सीमा के भीतर खाली कर वक्फ संस्था को सौंपे जाने के कड़े आदेश दिये गये हैं। इसके अतिरिक्त विगत अवधि के किराये की लम्बित राशि के भुगतान के भी आदेश दिये गये है। इस प्रकार वक्फ सम्पत्ति को अतिक्रमण मुक्त कराने की दिशा में यह महत्वपूर्ण निर्णय है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button